Lakhimpur- Kheri-News: आपदा में अपने कर्तव्यों को कुशलता से निर्वहन करने वाले शिक्षकों को किया जाए सम्मानित : डीएम

रिटायरमेंट के बाद पेंशन, जीपीएफ व अन्य देनदारियों में अनावश्यक विलंब ना हो : सीडीओ

एन.के.मिश्रा

लखीमपुर खीरी। मंगलवार को कलेक्ट्रेट सभागार में जिला शिक्षा अनुसरण समिति की बैठक डीएम शैलेंद्र कुमार सिंह की अध्यक्षता एवं सीडीओ अरविंद सिंह की मौजूदगी में आयोजित हुई।
जिला अधिकारी शैलेंद्र कुमार सिंह ने बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि वर्तमान समय में शिक्षण कार्य ना होने के कारण समय का सदुपयोग करते हुए  प्रशिक्षण एवं मिशन कायाकल्प  में बेहतर कार्य कराए जाने की आवश्यकता है।उन्होंने कहा कि ट्रेनिंग को रुचिकर बनाया जाए। प्रायः सभी शिक्षक डिजिटल प्लेटफार्म से जुड़े हुए हैं अतः शिक्षकों को डिजिटल माध्यमों से ट्रेनिंग दी जाए। उन्होंने शिक्षा जगत से जुड़े अधिकारियों को सघन स्तर पर परिषदीय विद्यालयों के निरीक्षण करने के लिए निर्देशित किया। डीएम ने कहा कि आपदा में अपने कर्तव्यों का बखूबी निर्वहन करने वाले शिक्षकों को सूचीबद्ध करते हुए उन्हें सम्मानित कराया जाए। जिससे न केवल उनका उत्साहवर्धन होगा बल्कि उनका मनोबल बढ़ने के साथ ही अन्य शिक्षक इससे प्रेरणा भी लेंगे।
मुख्य विकास अधिकारी अरविंद सिंह ने कहा कि शासन की मंशा के अनुरूप परिषदीय विद्यालयो के फिजिकल इंफ्रास्ट्रक्चर बेहतर बनाने में हर स्तर पर प्रयास किए जाएं। उन्होंने कहा कि कम्पोज़िट ग्रांट को नियमों के अंतर्गत सलीके से ही खर्च किया जाए। सभी खंड शिक्षा अधिकारी इसमें लीड रोल लेकर परिषदीय शिक्षकों को सेन्सटाइज़ करें। सक्रियता दिखाकर मिशन कायाकल्प के अंतर्गत परिषदीय विद्यालयों के स्वरूप को सवारने के साथ ही मूलभूत सुविधाओं से लैस कराएं। नियमों के अंतर्गत फंड का सदुपयोग हो यह प्रत्येक दशा में सुनिश्चित कराएं। उन्होंने कहा कि रिटायरमेंट के उपरांत पेंशन जीपीएफ एवं अन्य देनदारियों के भुगतान में में अनावश्यक विलंब कदापि ना हो इसे प्रत्येक दशा में सुनिश्चित कराएं। बेसिक विभाग के अकाउंट सेक्शन में जो पेंडेंसी हो उसे तत्काल निस्तारित कराएं और आगे या व्यवस्था को सुदृढ़ बनाएं।
जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी बुद्ध प्रिय सिंह ने बताया कि आज की बैठक में जिलाधिकारी एवं मुख्य विकास अधिकारी द्वारा जो भी मार्गदर्शन एवं दिशा निर्देश प्राप्त हुए हैं उनका अक्षर से पालन कराया जाएगा। इसी के साथ उन्होंने ई- पाठशाला फेज-2 के बारे में भी विस्तृत जानकारी दी।
बैठक में जिला विकास अधिकारी अरविंद कुमार पीडी डीआरडीए रामकृपाल चौधरी, प्राचार्य जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान डॉ ओपी गुप्ता, वित्त एवं लेखाधिकारी बेसिक, समस्त खंड शिक्षा अधिकारी मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *