Gonda Colonelganj News:लव जेहाद मे नाकाम विशेष संंप्रदाय के लोगो ने विदेशी फंंडिंंग के बदौलत जबरन धर्मांतरण कराने के प्रयास मेंं 9 लोगो पर मुकदमा

सांंकेतिक चित्र

एसपी सिंह / ज्ञान प्रकाश मिश्रा

करनैलगंज(गोंडा)। एक मानसिक रोग से पीड़ित युवती को जबरन ब्रेनवाश कराकर धर्मांतरण कराने एवं सामाजिक सौहार्द को बिगाड़ने, धार्मिक उन्माद फैलाने के साथ-साथ जानलेवा हमला करने के आरोप में आठ नामजद सहित अन्य अज्ञात लोगों के विरुद्ध कोतवाली करनैलगंज में बलवा, मारपीट, धर्मांतरण एवं धार्मिक उन्माद फैलाने का मुकदमा पुलिस ने दर्ज किया है।

कोतवाली करनैलगंज में सोमवार की देर रात्रि दर्ज कराई गई एफआईआर में कहा गया है कि उसके परिवार की मानसिक रोग से ग्रसित एक नाबालिक युवती को सकरौरा नगर निवासी अरमान अहमद, फातिमा, सलमान, मोहम्मद शाहिद उर्फ मस्तान के साथ सकरौरा निवासी जहीर अहमद के पुत्री एवं पुत्र एवं व पत्नी के साथ अमर निवासी पसका बाजार ने संयुक्त रूप से षड्यंत्र रच कर युवती का ब्रेनवाश कर जबरन बलपूर्वक धर्मांतरण कराने एवं धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने के साथ-साथ उसकी अस्मिता, लज्जा भंग कर व सामाजिक बुराई एवं कुरीति फैलाकर, सामाजिक व धार्मिक सद्भाव बिगाड़ने उन्माद व अशांति फैलाकर युवती के जीवन को संकट में डालने एवं शारीरिक व मानसिक शोषण कर उसके पूरे परिवार को समाज में असहाय पीड़ा पहुंचाने के साथ ही अपूर्णीय क्षति पहुंचाई गई।

इसके साथ रिपोर्ट में कहा गया है कि उसकी पुत्री मानसिक रूप से स्वस्थ नहीं है जिसका मानसिक रोग विशेषज्ञ की एक टीम से परीक्षण कराया जाना आवश्यक है। जिसके साथ जबरन धर्मांतरण कराने का प्रयास किया जा रहा है।

घटना में सोमवार की रात्रि करीब 9:30 बजे युवती के परिजन अपने घर पर थे उसी समय करीब आधा दर्जन से अधिक लोग हथियारबंद होकर बिना नंबर प्लेट के चार पहिया वाहन से उसके घर आए और सभी लोगों ने मिलकर संयुक्त रूप से सुलह समझौते का दबाव बनाना शुरू किया। उनकी बात न मानने पर उसके साथ गाली गलौज करते हुए धारदार हथियार से हमला कर दिया। हल्ला गुहार करने के बाद आसपास के लोग जब मौके की तरफ दौड़े तो लोग फरार हो गए। रिपोर्ट में कहा गया है कि एक पक्ष के लोग सामाजिक भावनाओं को आहत कर रहे हैं। एफआइआर में कहा गया है कि युवक के परिजनों द्वारा युवती को विदेश सहित आईएसआई द्वारा एक धर्म विशेष की लड़कियों को फंसा कर इस्लाम स्वीकार कराने के लिए भारी रकम मिलती है। इसका लालच दिया गया और यह धमकाया गया कि तमाम लड़कियों का धर्मांतरण कराया जाएगा और युवती को जल्द ही दुबई में भेज कर भारी रकम मंगाई जाएगी। घटना के बाद बाद गांव के सैकड़ों की संख्या में लोग थाने पहुंच गए और मामले की सूचना पुलिस अधीक्षक गोंडा को दी गई। पुलिस अधीक्षक ने मौके पर तत्काल अपर पुलिस अधीक्षक महेंद्र कुमार एवं पुलिस क्षेत्राधिकारी मुन्ना उपाध्याय को जांच के लिए भेजा।

मौके पर पहुंचे अधिकारियों ने जांच की और युवती के परिजनों की तरफ से कोतवाली में आठ नामजद सहित अज्ञात लोगों के विरुद्ध धारा 147, 148, 149, 323, 324, 504, 506, 295 ए, 153 बी, 505 दो, 120 बी के तहत मुकदमा पंजीकृत किया है। जिसमें अरमान अहमद, फातिमा, सलमान निवासी सकरौरा, मोहम्मद शाहिद उर्फ मस्तान, सलमान की पत्नी एवं उनके भाई के साथ-साथ अमर निवासी पसका बाजार सहित अन्य अज्ञात लोगों के विरुद्ध पुलिस ने मुकदमा पंजीकृत किया है। कोतवाल मनीष जाट ने बताया कि तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज किया गया है। मामले की जांच कराई जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *