Gonda News:मां गायत्री रामसुख पांडे पी0जी0 कॉलेज मसकनवांं मेंं वसंत पंचमी पर सुर संगीत की देवी मां सरस्वती की भक्तिभाव से अराधना की गई

संंजय यादव

गोण्डा।-वसंत पंचमी पर मसकनवा में मां गायत्री रामसुख पांडे पी0जी0 कॉलेज ज्ञान, बुद्धि, विद्या और सुर संगीत की देवी मां सरस्वती की भक्तिभाव से अराधना की गई। महाविद्यालय में छात्र छात्राओं ने पीले फूल मां सरस्वती को अर्पित किए और लड्डूओं का भोग लगा कर हवन पूजन किया। पूजन के बाद आये हुए विद्यार्थियों और अतिथियों को प्रसाद के रूप में भोजन कराया गया। महाविद्यालय के प्रबंधक ज्ञान प्रकाश पांडे ने बताया वर्ष 2003 में बसंत पंचमी के अवसर पर पंडित रामप्रसाद पांडेय ने महाविद्यालय की स्थापना की थी। स्थापना दिवस व बसंत पंचमी के अवसर पर विद्यालय में पांच दिवसीय सवा लाख गायत्री मंत्र के जाप के पश्चात नव कुंडीय गायत्री महायज्ञ का आयोजन किया जाता है। इसी तरह हर वर्ष महाविद्यालय के स्थापना दिवस पर वार्षिक उत्सव, वसंत पंचमी महोत्सव मनाया जाता है।

महोत्सव में संगीत के विद्यार्थियों ने एक से बढ़कर एक गायन एवं वाद्य प्रस्तुतियां दी गई। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि स्वामी नारायण छपिया मंदिर के महंत स्वामी देवप्रसाद दास ने विद्यार्थियों को संबोधित करते हुए कहा कि ज्ञान, कला, बुद्धि और संगीत की देवी सरस्वती का स्वरूप शांत और सौम्य है। विशिष्ट अतिथि एसबीआई के पूर्व प्रशासक शोभाराम शुक्ला ने कहा कि वसंत पंचमी महोत्सव नव वर्ष के आगमन का प्रतीक भी माना जाता है, जिसमें वसंत ऋतु प्राकृतिक सौंदर्य के आगमन के साथ सभी आनंद व उल्लास का अनुभव करते हैं।शास्त्रीय संगीत ¨हदुस्तान की आत्मा है।


इस अवसर पर महाविद्यालय के प्रबंधक ज्ञान प्रकाश पांडेय,डॉ अनिरुद्ध त्रिपाठी, पूर्व ब्लाक प्रमुख शैलेंद्र पांडे ,रवि शंकर त्रिपाठी ,कृष्णानंद शुक्ला,घनश्याम शुक्ला,डा अशोक शुक्ला, कमलेश पांडेय,विक्की मिश्रा,गोपाल शुक्ला,संजय यादव,तुलसीराम शुक्ला, विष्णु विवेक शुक्ला, हेमंत जटा शंकर पाण्डेय ,अमित तिवारी, आंनद त्रिपाठी, सोनू तिवारी, जलज द्विवेदी, संजय तिवारी, सुनील गौड़ ,पूरनचंद गुप्ता,अवनीश सिंह, विनोद शुक्ला, सुनील पांडेय, अविनाश तिवारी, अंशु, आंचल, कंचन, श्रेया, हिमांशु, सत्यम सहित महाविद्यालय व इंटर कालेज के तमाम छात्र छात्राओं ने प्रतिभाग किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *