Gonda Colonelganj News: दुकान में घुसकर की पिटाई तोडा हाथ उठा ले गये डेढ हजार नगदी पुलिस ने एनसीआर दर्ज कर शांति भंग की धारा में चालान कर मामले को रफा दफा किया

एसपी सिंह / ज्ञान प्रकाश मिश्रा

करनैलगंज(गोंडा)। गांव के दबंगों ने एक व्यक्ति की दुकान में घुसकर उसके बेटे को लाठियों से पीटना शुरू कर दिया। बचाने के लिए दौड़ी बहू को भी लाठियों से पीटा और दुकान में रखी करीब डेढ़ हजार रुपए की नगदी भी उठा ले गए। लाठियों से हुई पिटाई में उसके बेटे का हाथ टूट गया।

उसके द्वारा दी गई तहरीर पर पुलिस ने एनसीआर दर्ज कर लिया तथा पिटाई करने वाले लोगों को पुलिस ने बुला कर शांति भंग की धारा में चालान किया। मारपीट के बाद मौके पर पुलिस देखने तक नही गई। अब पीड़ित परिवार को दबंगों द्वारा लगातार धमकियां दी जा रही है। उसकी बहू श्यामकली का कहना है कि जब वह घर से शौच के लिए निकलती है तो उसके विपक्षी पीछा करते हैं और धमकी देते हैं कि तुम कुछ नहीं कर पाओगे जिससे पूरा परिवार आजिज हो चुका है।

कोतवाली करनैलगंज क्षेत्र के ग्राम मलौली डीहा निवासी राम अवतार का कहना है कि 13 अगस्त को गांव के कुछ लोगों ने शराब के नशे में धुत होकर उसके लड़के की परचून की दुकान पर देर शाम गाली गलौज करना शुरू किया। जब उसके बेटे ने मना किया तो लोग उसकी दुकान में घुस गए और उसे मारने लगे। बेटे को बचाने के लिए उसकी बहू श्यामकली दौड़ी तो उसे भी लाठियों से पीटा गया। जिससे उसके लड़के अरुण कुमार को हाथ में काफी छोटे हैं उसके हाथ की हड्डी टूट गई और बहू को भी चोटे आई। जिसकी शिकायत करने जब वह थाने पहुंचा तो वहां बैठे एक दरोगा ने एक होमगार्ड से तहरीर लिखवाई और एनसीआर दर्ज कर लिया। उसका मेडिकल परीक्षण गोंडा जिला चिकित्सालय से कराया गया। जिसमें हड्डी टूटने की बात सामने आई फिर भी पुलिस मामले में जांच करने मौके पर नहीं पहुंची। इस संबंध में शनिवार को पुनः पीड़ित परिवार कोतवाली पहुंचा तो उससे यह बताया गया कि अभी मेडिकल रिपोर्ट नहीं आई है। रिपोर्ट आने पर कार्रवाई की जाएगी। कोतवाल राजनाथ सिंह बताते हैं कि मामले में एनसीआर दर्ज कर लिया गया था मेडिकल रिपोर्ट आने पर अगर फैक्चर पाया जाता है तो धारा 325 की बढ़ोतरी कर दी जाएगी।

हालांकि कोतवाल ने पहले ही साबित कर दिया कि लड़के का हाथ मारपीट के पहले से ही टूटा था। कोतवाल ने बताया कि मेडिकल रिपोर्ट आने पर आगे की कार्रवाई की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *