Lakhimpur Kheri News:मानव तस्करी को ले जाई जा रही युवती को 49 वीं बटालियन एसएसबी ने बचाया

इन दिनों बॉर्डर पर मानव तस्करी की लगातार मिल रही थी सूचनाएं

एन.के.मिश्रा
पलिया कला, लखीमपुर खीरी। भारत नेपाल के संपूर्ण नगर थाना क्षेत्र के खजुरिया बार्डर पर तस्करी के साथ साथ मानव तस्करी का धंधा भी आये दिन चर्चा में आता रहता है। नेपाली युवक युवतियों को झासा देकर देश के बड़े महानगरों में ले जाते हैं। इसी क्रम में एंटीक्राइम एन सीईओ द्वारा कंपनी कमांडर को सूचना दी गई कि सीमा स्तंभ संख्या 211/42 नया बॉर्डर पिलर संख्या 776 के पास से एक लड़की और एक लड़का जो लड़की को बहला-फुसलाकर भारत भगाने के फिराक में हैं जैसे ही या खबर बॉर्डर पर गश्ती दल 49 वीं बटालियन एसएसबी जवानों को लगी तुरंत हरकत में आते हुए गस्त तेज कर दी। इसी दौरान लगभग 18 बजे नेपाल की तरफ से युवक-युवती पैदल भारत की तरफ आते दिखाई दिए पिलर संख्या 776 (211/42) नो मैन्स लैंड पर गस्ती पार्टी द्वारा दोनों को रोककर पूछताछ की गई। जिसके दौरान पता चला कि लड़का लड़की को भगाकर भारत ले जाने की फिराक में था तभी बॉर्डर की एसएसबी की ऐ एच टी यू की महिला जवानों ने लड़की से गहन पूछताछ की जिसके दौरान पता चला कि यह लड़का लड़की को भारत में नौकरी दिलाने के बहाने भगाकर ले जा रहा था। और अजीम खान द्वारा लड़की को समझाया गया था कि अगर बॉर्डर पर नेपाल तथा भारत की एपीएफ, सएसबी नेपाल पुलिस  पूछताछ करे तो यही बताना कि हम तुम्हें घूमाने ले जा रहे हैं। वहीं जब एसएसबी की 49 वीं बटालियन महिला एसएसबी ने कड़ाई से पूछताछ की गई तो साफ-साफ लड़की कर ने बता दिया। जिसके बाद दोषी पुरुष अजीम खान पुत्र गुलशेर खान लड़की कंचन राणा पति विमल राणा व नेपाल पुलिस एपीएफ नेपाल सृजनशील विकास तथा संरक्षण समाज को संयुक्त रूप से सौंप दिया गया। एसएसबी की पकड़ने वाली टीम स्पेक्टर विकसित यादव, बीरबल, राम स्नेही यादव, दिनेश कुमार, संगीता रानी, सुष्मिता देवी आदि टीम मौजूद रही।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *