Gonda News:बेटियों और महिलाओं की सुरक्षा एवं स्वावलम्बन के लिए मिशन शक्ति अभियान का जिले में हुआ आगाज

प्रभारी मंत्री व जनप्रतिनिधियों ने जिले में अभियान का किया शुभारम्भ

राम नरायन जायसवाल

गोण्डा।बेटियों और महिलाओं की सुरक्षा एवं स्वावलम्बन के लिए प्रदेश सरकार के अति महत्वांकाक्षी ‘‘मिशन शक्ति’’ अभियान का आगाज शनिवार को जिले में हो गया। इस अवसर पर नगर के टाउन हाॅल में कार्यक्रम आयोजित हुआ जिसमें जिले के प्रभारी मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह ने डिजिटल माध्यम से व विधायक तरबगंज प्रेम नारायण पाण्डेय, विधायक गौरा प्रभात वर्मा, विधायक मेहनौन विनय द्विवेदी, सांसद प्रतिनिधि संजीव सिंह, डीएम डा0 नितिन बंसल, अभियान के लिए शासन से नामित नोडल अधिकारी विशेष सचिव आवास एवं शहरी नियोजन श्रीमती माला श्रीवास्तव तथा पुलिस अधीक्षक शैलेष कुमार पाण्डेय ने दीप प्रज्ज्वलित करके अभियान का औपचारिक शुभारम्भ किया।

प्रभारी मंत्री ने “मिशन शक्ति” अभियान के शुभारम्भ कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए कहा कि महिलाओं एवं बालिकाओं की सुरक्षा, सम्मान एवं स्वावलम्बन के लिए समाज के हर वर्ग के लोगों से सम्पर्क कर उन्हंे जागरूक कर उनके अधिकारों के बारे में बताया जाएगा। इसके साथ ही महिलाओं व बालिकाओं को सरकार द्वारा दी जा रही सुविधाओं की भी जानकारियां दी जायेंगी। उन्होंने कहा कि समाजिक कुरीतियों से जुड़े लोग जो महिला व बालिकाओं के प्रति अपराधों को संरक्षण देते है, अब उनकी खैर नहीं होगी। उन्होंने कहा कि मिशन शक्ति अभियान से 24 सरकारी विभाग तथा अन्तर्राष्ट्रीय और स्थानीय सामाजिक संगठन जुड़ेंगे। उन्होंने कहा कि दुष्कर्मियों को बख्शा नहीं जाएगा। मिशन शक्ति अभियान 25 अक्तूबर तक चलेगा, इसके बाद अप्रैल तक हर महीने यह अभियान एक-एक सप्ताह के लिए चलाया जाएगा, जिसके लिए तिथिवार थीम निर्धारित की गई है।

विधायक तरबगंज प्रेम नारायण पाण्डेय ने कहा कि बेटियों और महिलाओं की सुरक्षा व स्वावलम्बन की जिम्मेदारी पूरे समाज की है, क्योंकि बेटियों-महिलाओं के बिना समाज की कल्पना नहीं की जा सकती है। इसलिए यह अवसर है कि हम लोग बेटियों-महिलाओं को हर स्तर पर समान अधिकार का अवसर व सम्मान दें।

विधायक गौरा प्रभात वर्मा ने कहा कि आज इस बात की नितान्त आवश्यकता है कि बेटियों और महिलाओं के साथ हो रहे अपराधों पर प्रभावी अंकुश लगाने के लिए कठोर कानून बनाएं जाएं तथा मामलों में पुलिस निष्पक्ष ढंग से विवेचना करके दोषियों को सलाखों के पीछे पहुंचाने का काम ईमानदारी से करे।

विधायक मेहनौन विनय कुमार द्विवेदी ने कहा कि मिशन शक्ति अभियान बेटियों और महिलाओं के अन्दर सुरक्षा की भावना लाने के साथ ही उन्हें आत्म निर्भर बनाने का भी काम करेगा। उन्होंने कहा कि मिशन शक्ति अभियान में विभिन्न सरकारी विभागों को इसीलिए शामिल किया गया है ताकि महिलाएं व बेटियां हर स्तर पर स्वावलम्बी बन सकें।

सांसद कैसरंगज के प्रतिनिधि संजीव सिंह ने कहा कि प्रदेश सरकार महिला उत्पीड़न के मामलों को लेकर बेहद संवेदनशील है। इसके अलावा संगठित अपराधियों के खिलाफ सरकार की लगातार कार्यवाहियों से उनकी कमर टूटी है। उन्होंने कहा कि मिशन शक्ति अभियान बेटियों व महिलाओं के जीवन में अमूलचूल परिवर्तन लाने का काम करेगा।

कार्यक्रम में अभियान के लिए शासन से नामित नोडल अधिकारी विशेष सचिव आवास एवं शहरी नियोजन श्रीमती माला श्रीवास्त ने कहा कि शासन के निर्देशन में पूरे जनपद में विशेष अभियान चलाकर महिला व बाल अपराधों पर प्रभावी अंकुश लगाने का काम किया जाएगा। सभी थानों में महिला हेल्प लाईन स्थापित होगी तथा एन्टी रोमियो स्क्वायड तथा अन्य पुलिस कर्मी अपराध नियंत्रण में अपनी अहम भूमिका निभायेंगे। अभियान के शुभारम्भ पर उन्होंने बधाई देते हुए सभी सम्बन्धित विभागों के अधिकारियों को व्यक्गित रूचि लेकर अभियान को सफल बनाएं। उन्होंने कहा कि यह भी एक निश्चित अवधि तक ही सीमित नहीं रहना चाहिए बल्कि जब लोगों की सोच में भी परिवर्तन आएगा तभी इस हमारी बहन-बेटियां सुरक्षित, शिक्षित एवं आत्म निर्भर बन सकेगीं।

जिलाधिकारी डा0 नितिन बंसल ने कहा कि जनपद के सभी ग्रामीण व शहरी क्षेत्रों में,  स्थानीय निकाय, मलिन बस्तियों में रहने वाले लोगों, श्रमिकों, किसानों आदि सभी वर्गों के लोगों को महिला अपराधों के प्रति सजग रहने के लिए जागरूक किया जाएगा। पाॅक्सो कानून के अंतर्गत बच्चों का यौन हिंसा से बचाव, सहायता व पुनर्वास तथा हिंसा करने पर दण्ड़ के प्राविधानों से आम लोगों को जानकारियां दी जएंगी।

पुलिस अधीक्षक शैलेष कुमार पाण्डेय ने कहा कि बेटियों और महिलाओं की सुरक्षा की जिम्मेदारी हमारी है और हम उन्हें हर स्तर पर सुरक्षा प्रदान करेगें तथा बेटियों और महिलाओं के साथ दुव्र्यवहार की कुचेेष्टा करने वालों के खिलाफ नजीर बनने वाली कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने कहा कि महिलाओें की मदद व सुरक्षा के लिए 1090, 181 महिला हेल्प लाइन, 1098 चाइल्ड हेल्प लाइन जैसी सेवाएं पहले से संचालित हैं, जिन्हें और अधिक प्रभावी बनाने का काम आने वाले दिनों में कियाइस असवर पर मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 मधु गैरोला ने भी अपने विचार व्यक्त किए। नगर मजिस्ट्रेट वन्दना त्रिवेदी ने स्वरचित कविता ‘‘कस्तूरी’’ सुनाकर लोगों को सोचने पर विवश कर दिया।
कार्यक्रम में अनाम संस्था के कलाकारों द्वारा बेटियों से सम्बन्धित मन मोहक नाट्य का प्रस्तुतीकरण किया गया। ताइक्वाण्डो के बच्चों द्वारा इस अवसर पर आत्म रक्षा के करतब भी दिखाए गए। महिलाओं एवं बालिकों की सुरक्षा, सम्मान एवं स्वावलम्बी बनाने के लिए प्रचार संदेश के रूप में एल.ई.डी वैन के माध्यम से प्रसारण भी किया गया। कार्यक्रम का संचालन अरविन्द पाण्डेय द्वारा किया गया तथा उपनिदेशक महिला कल्याण ने अतिथियों का धन्यवाद ज्ञापित किया।  

कार्यक्रम में मुख्य विकास अधिकारी शशांक त्रिपाठी, जिला प्रोबेशन अधिकारी जयदीप सिंह, जिला विद्यालय निरीक्षक अधिकारी अनूप श्रीवास्तव, बीएसए डा0 इन्द्रजीत प्रजापति, जिला कार्यक्रम अधिकारी मनोज कुमार, जिला पंचायतराज अधिकारी सभाजीत पाण्डेय, आरआई संजय कुमार सहित आशा, आंगनबाड़ी कार्यकत्रियां तथा अन्य गणमान्य उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *