Gonda News:तहसील मुख्यालय के ब्लाकों पर मजिस्ट्रेटों को मिला बीडीओ का चार्ज

कोरोना संक्रमण को देखते हुए डीएम ने किया बड़ा फेरबदल

विकास विभाग की नई टीम कोरोना के खिलाफ लड़ाई में निभाएगी अहम भूमिका

राम नरायन जायसवाल

गोण्डा।जिलाधिकारी मार्कण्डेय शाही ने विकास विभाग में बड़ा फेरबदल करते हुए खण्ड विकास अधिकारियों की नवीन तैनाती देते हुए कोरोना के खिलाफ जंग में बड़ी जिम्मेदारी सौंपी है।
डीएम ने मंगलवार को आदेश जारी कर तहसील मुख्यालय के ब्लाकों पर मजिस्ट्रेट्स को बीडीओ का प्रभार देने के साथ ही अन्य सभी ब्लाकों पर खण्ड विकास अधिकारियों की नवीन तैनाती दी है जिसमें एसडीएम मनकापुर हीरालाल यादव को बीडीओ मनकापुर, एसडीएम राजेश कुमार को बीडीओ तरबगंज, एसडीएम करनैलगंज शत्रुघ्न पाठक को बीडीओ करनैलगंज, अपर उपजिलाधिकारी बीर बहादुर यादव को बीडीओ झंझरी, प्रशिक्षु डिप्टी कलेक्टर आकाश सिंह को बीडीओ मुजेहना तथा प्रशिक्षु डिप्टी कलेक्टर आत्रेय मिश्रा को बीडीओ पण्डरीकृपाल का का प्रभार दिया है।
इसके साथ ही प्रदीप कुमार को बीडीओ बभनजोत, वर्षा सिंह को रूपईडीह, राघवेन्द्र सिंह को नवाबगंज, पन्ना लाल को इटियाथोक, शेर बहादुर को वजीरगंज, अरूण कुमार सिंह जिला अर्थ एवं संख्या अधिकारी को परसपुर, डीसी एनआरएलएम दिनकर विद्यार्थी को कटरा बाजार, डीसी मनरेगा हरिष्चन्द्र प्रजापति को हलधरमऊ, सदानन्द चाौधरी भूमि संरक्षण अधिकारी को बेलसर तथा जिला कृषि अधिकारी जगदीश प्रसाद यादव को छपिया का खण्ड विकास अधिकारी नियुक्त किया है।
जिलाधिकारी ने नवनियुक्त सभी खण्ड विकास अधिकारियों को आदेशित किया है कि विकास खण्ड स्तर से संचालित विभिन्न विकास कार्यकमों के प्रभावी कियान्वयन, अनुश्रवण के साथ-साथ वर्तमान में कोविड-19 के संकमण की स्थिति पर नियंत्रण हेतु शासन के निर्देशों का कड़ाई पूर्वक अनुपालन करायेगें। सभी खण्ड विकास अधिकारी अपने विकास खण्ड अन्तर्गत स्थित सभी एक एनएम सेन्टर, अतिरिक्त प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र, प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र तथा सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र के प्रभारी चिकित्सा अधिकारियों एवं अधीक्षक सहित खण्ड शिक्षा अधिकारी, बाल विकास परियोजना अधिकारी, सहायक विकास अधिकारी (पंचायत) के साथ प्रतिदिन बैठक कर आरबीएसके की टीमों तथा विकास खण्ड स्तर पर स्वास्थ्य विभाग के अन्य फील्ड कार्मिकों को टीम की क्षेत्र में रवानगी, उनके द्वारा सम्पादित कार्यों (मसलन-सिम्पटोमेटिक लोगों की जांच, सैम्पलिंग, होम आइसोलेशन में रह रहे शत-प्रतिशत मरीजों के यहां होम विजिट, मरीजों तथा उनके परिवार के कोविड-19 लक्षणयुक्त सदस्यों को मेडिकल किट वितरण, कोविड वैक्सीनेशन की स्थिति की गहनता के साथ समीक्षा करेगें। साथ ही साथ विकास खण्ड अन्तर्गत ग्राम पंचायतों में गठित निगरानी समितियों द्वारा किये जा रहे कार्यों, ग्राम की साफ-सफाई, फागिंग, एण्टी लार्वा, चूना, ब्लीचिंग पाउडर के छिड़काव आदि के विषय में भी सूचना संकलित की जायेगी। जिन टीमों व कार्मिकों का कार्य सन्तोषजनक नहीं होगा, उनका स्पष्टीकरण प्राप्त करते हुये कार्यवाही सुनिश्चित कराएगें। खण्ड विकास अधिकारियों द्वारा प्रतिदिन बैठक के उपरान्त अपने विकास खण्ड की स्थिति से मुख्य विकास अधिकारी को वर्चुअल मीटिंग के माध्यम से अवगत भी कराया जायेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *