Gonda News:डीएम ने मुख्यमंत्री जन आरोग्य मेले का किया औचक निरीक्षण गैरहाजिर 29 कर्मियों का डीएम ने रोका वेतन, जवाब तलब

कोरोना संक्रमण से चकरौत निवासी एक ही परिवार के पांच मृतकों के बच्चों से मिले डीएम, सरकारी सहायता दिलाने के निर्देश
राम नरायन जायसवाल
गोण्डा। रविवार को शासन के निर्देशन में जनपद के सभी 52 प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर मुख्यमंत्री जन आरोग्य मेले का आयोजन किया गया जिसमें जनसामान्य का स्वास्थ्य परीक्षण के साथ ही स्वास्थ्य सेवाएं मुहैया कराई गईं।
वहीं मुख्यमंत्री जन आरोग्य मेले की हकीकत देखने के लिए स्वयं डीएम मार्कण्डेय शाही ने सीएमओ डा0 आरएस केसरी के साथ कई प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर औचक पहुंचकर मेले का जायजा लिया। डीएम सबसे पहले प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र हरसिंहपुर बालपुर पहंुचे। वहां पर उपस्थिति पंजिका चेक किया गया तो 31 फील्ड वर्कर्स के सापेक्ष मात्र 08 कर्मी ही केन्द्र पर उपस्थित मिले। डीएम ने सभी गैरहाजिर कर्मियों का वेतन अग्रिम आदेशों तक रोकते हुए इस लापरवाही के सम्बन्ध में शासन को रिपोर्ट भेजने के निर्देश सीएमओ को दिए।
 कटरा बाजार अंतर्गत प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र पूरे बहोरी पहुंचे।उपस्थिति चेक करने पर एमओ डा0 तौफीक अली दो दिन से बिना से किसी सूचना के अनुपस्थित मिले। माइनर ओटी मे ताला लटका हुआ मिला।
इसके बाद डीएम ब्लाक करनैलगंज अंतर्गत प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र चकरौत पहंुचे। वहां पर फील्ड कर्मियों की उपस्थिति चेक करने पर आंगनबाड़ी सुपरवाइजर कलावती, आंगनबाड़ी कार्यकत्री मीनाक्षी, राधा, वंदना सविता गैरहाजिर मिलीं। डीएम ने सभी अपुपिस्थत कर्मियों का वेतन/मानेदय रोकने के आदेश दिए हैं।
 डीएम चकरौत के की निवासी दिवंगत अश्वनी श्रीवास्तव के घर पहुंचे तथा उनके बच्चों से मुलाकात कर मुहैया कराई सरकारी सुविधाओं के बारे में जानकारी ली। बताते चलें कोरोना संक्रमण के दौरान ग्राम चकरौत निवासी अश्वनी श्रीवास्तव सहित उनके घर के पांच लोगों की मृत्यु हो गई थी। डीएम ने अश्वनी श्रीवास्तव के पुत्र गौरव व बेटी अदिति से बात की तथा जिला प्रोबेशन अधिकारी को आदेश दिए कि वे स्वयं दिवंगत अश्वनी श्रीवास्तव के घर आकर रिपोर्ट तैयार कर लें तथा सरकार द्वारा जो भी अनुमन्य सुविधाएं हों, उन्हें तत्काल दिलाना सुनिश्चित करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *