Gonda News:खंड शिक्षा अधिकारी के निलंबन का मामला गहराया शिक्षक आमने-सामने अध्यापकों का विरोध प्रदर्शन,शिक्षकों से रिश्वत मांगने के आरोप पर हुआ था निलंबन

राम नरायन जायसवाल

गोण्डा।  खंड शिक्षा अधिकारी ओम प्रकाश पाल के निलंबन के विरोध में शिक्षकों ने बीआरसी पर भारी संख्या में एकत्र होकर विरोध प्रदर्शन किया और उनके ससम्मान बहाली की मांग की,रिश्वत मांगने के आरोप में निलंबन हुआ था। 

अध्यापकों ने निराधार, शिकायत व गलत तथ्यों के आधार पर किये गये निलंबन के विरोध में प्रदर्शन कर आक्रोश व्यक्त किया। ब्लाक के कई संगठनों के शिक्षक, शिक्षिकाएं शिक्षामित्र एवं अनुदेशकों खंड शिक्षा अधिकारी ओम प्रकाश पाल के निलंबन को निरस्त कर उन्हें ससम्मान बहाल करने की मांग की। शिक्षक पदाधिकारियों और शिक्षकों ने बिना साक्ष्य के लगाये गये आरोप को निराधार बताया और कहा कि इस तरह से षड्यंत्र पूर्वक कारवाई को गैर जरूरी है। इस मौके पर राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ के ब्लॉक अध्यक्ष डॉ रामराज ने कहा कि खंड शिक्षा अधिकारी ओम प्रकाश पाल ने उक्त प्रकरण के बाद में इस ब्लॉक में जवाइनिंग की थी ऐसे में इस प्रकरण में उनके ऊपर आरोप लगाना पूर्णतयः गलत है। तो वहीं प्राथमिक शिक्षक संघ के ब्लॉक अध्यक्ष डॉ अखिलेश शुक्ल ने कहा कि खंड शिक्षा अधिकारी के निलंबन को तत्काल बहाल किया जाए बिना बहाल के हम लोग संतुष्ट नही हो सकते आज यहां सैकड़ो की संख्या में शिक्षक लामबंद है आवश्यकता पड़ेगी तो हजारों की संख्या में हम लोग आगे भी प्रदर्शन के लिए तैयार हैं। इस विरोध प्रदर्शन में सैकड़ो की संख्या में शिक्षक उपस्थित रहे।

6 जनवरी को खण्ड शिक्षा अधिकारी का निलंबन स्थानान्तरित शिक्षको कार्य मुक्त न करके उनके स्थान पर तैनाती नही की गयी थी जिसकी शिकायत दो शिक्षको ने शिक्षा विभाग के अधिकारियों सहित उच्च न्यायालय में याचिका दायर की थी जिसको लेकर अपर शिक्षा निदेशक ने निलम्बित कर दिया था। वही शिक्षक आमने सामने दिखाई पड रहे है निलंंबन के विरोध मेंं।  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *