Lakhimpur Kheri News:खीरी पहुंचे नोडल अधिकारी, शासन की प्राथमिकता वाले विकास कार्यक्रमों की समीक्षा, दिए निर्देश

जिला पूर्ति अधिकारी को प्रतिकूल प्रविष्टि, जिला ग्रामोद्योग अधिकारी को जारी होगी चेतावनी केलगाई फटकार
एन.के.मिश्रा
लखीमपुर खीरी । नोडल अधिकारी, आयुक्त लखनऊ मंडल लखनऊ रंजन कुमार ने कलेक्ट्रेट में शासन की प्राथमिकता वाले 37 प्रारूपो व 71 बिंदुओं की विकास कार्यक्रमवार, बिंदुवार, मदवार समीक्षा की एवं संबंधित को जरूरी निर्देश दिए। नोडल अधिकारी ने योजनाओं के क्रियान्वयन में शिथिल पर्यवेक्षण पर अधिकारियों को फटकार लगाई। नोडल अधिकारी ने डीएसओ को प्रतिकूल प्रविष्टि व जिला ग्रामोद्योग अधिकारी को नोटिस जारी करने के निर्देश दिए।
नोडल अधिकारी ने अधिकारियों को शासन की प्राथमिकता वाली विकास योजनाओं में तेजी से प्रगति लाने के निर्देश दिए। शासन की मंशानुरूप विकासपरक कार्यक्रमों, जनकल्याणकारी योजनाओं, लाभार्थीपरक कार्यक्रमों को पारदर्शिता व गुणवत्ता से पूरा किया जाए। कार्यदायी संस्थाओं पर शिथिल नियंत्रण रखने वाले अधिकारियो पर भी कार्यवाही की जाय। सरकारी दफ्तरों को एक्टिवेट किया जाए, सभी अधिकारी अपना वर्किंग कल्चर सुधारें। उन्होंने सीडीओ को निर्देश दिए कि बीडीओ को जॉबचार्ट जारी करें ताकि वह ब्लाकों मे प्रतिदिन योजनाओं का पर्यवेक्षण करे।
बैठक में नोडल अधिकारी ने एआर कोऑपरेटिव एसएन मिश्र से सहकारिता में ओटीएस योजना की जानकारी ली। श्री मिश्र ने बताया कि जिले में 131 सोसाइटी चल रही है, जिसमें 04 लाख 13 हजार सदस्य हैं। उन्होंने बताया कि ओटीएस स्कीम दिसंबर 2021 तक चलेगी। स्कीम के बावजूद भी शत प्रतिशत वसूली न होने पर खराब प्रगति वाले सचिव पर कार्रवाई के निर्देश दिए। सहकारी समितियों के कृषि यंत्र यथा ट्रैक्टर मशीनरी जमुना बाद फार्म की सास्यक्रिया में प्रयुक्त हो रहे हैं जिससे सहकारी समितियों को लाभ हो रहा। पर्याप्त भूमि पर कृषि ना होने के चलते सहकारी समिति और फार्म के बीच कांटेक्ट फार्मिंग की बात कही। जिस पर नोडल अधिकारी ने निर्देश दिए कि उपनिदेशक कृषि एवं सहायक आयुक्त एवं निबंधक सहकारिता आपसी समन्वय से विशेष कार्य योजना तैयार करे। उन्होंने बताया कि जिले में एआईएफ फंड के जरिए 100 एमटी की क्षमता वाले 39 गोदाम स्वीकृत हैं जिनमें 20 पर काम चल रहा है। नोडल अधिकारी ने डीएसओ से रिक्त उचित दर दुकानों का व्यवस्थापन की अद्यतन स्थिति जानी। डीएसओ ने बताया कि 06 उचित दर दुकानों का व्यवस्थापन होना शेष है। उन्होंने कोटे की दुकानें अधिक समय से आवंटित ना होने का कारण जाना। डीएसओ पर नाराजगी जताते हुए जल्द दुकानों के व्यवस्थापन के निर्देश दिए। उन्होंने डीएम को निर्देश दिए कि डीएसओ विजय प्रताप सिंह को प्रतिकूल प्रविष्टि जारी किया जाए। नोडल अधिकारी ने पूछने पर सीवीओ ने बताया कि 14540 गोवंश संरक्षित किए हैं। जिले में दो बृहद गो आश्रय स्थल व 10 आस्थाई गोवंश आश्रय स्थल बनाने की प्रक्रिया में है। उन्होंने अवशेष निराश्रित गोवंश को संरक्षित करने की कार्य योजना जानी। उन्होंने निर्देश दिए कि मिशन मोड में निराश्रित गोवंश के संरक्षण की कार्रवाई की जाए।
अधूरे निर्माण कार्यों की समीक्षा के दौरान कार्यदायी संस्था यूपीआरएनएसएस को निर्देश दिए कि पीएचसी कैमहरा व  त्रिकोलिया 15 सितंबर तक युद्ध स्तर पर कार्य पूर्ण कराने का अल्टीमेटम दिया। सीएमओ से पीएम जन आरोग्य योजना के तहत गोल्डन कार्डों का वितरण एवं उपचारित मरीजों की संख्या, चिकित्सकों की उपलब्धता, हेल्थ एंड वैलनेस सेंटर सहित बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम औषधियों की उपलब्धता, एंबुलेंस की क्रियाशीलता, टीकाकरण जानी। पीडी से सीएम आवास योजना (ग्रामीण) में भौतिक लक्ष्य के सापेक्ष आवास निर्माण की प्रगति जानी। धीमी प्रगति वाले ब्लॉक में आवास निर्माण की प्रगति बढ़ाने के निर्देश दिए। पीएम रोजगार सृजन कार्यक्रम में 35 लक्ष्य के सापेक्ष 22 स्वीकृत हुए। उनमें 09 लाभार्थियों के खाते में लोन की धनराशि बैंकों के जरिए अंतरित की गई। नोडल अधिकारी ने ग्रामोद्योग अधिकारी से बैंकों में लंबित आवेदनों की संख्या जानी। वही जिला ग्रामोद्योग अधिकारी को योजना क्रियान्वयन में धीमी प्रगति पर चेतावनी जारी करने के निर्देश दिए। सिंचाई विभाग के अधिकारियों से टेल तक पानी पहुंचने की जानकारी लेकर सिल्टिंग डिसिल्टिंग की कार्ययोजना जानी।
उन्होंने उपायुक्त उद्योग से निवेश मित्र एवं झटपट पोर्टल पर लंबित आवेदनों के समय से निस्तारण के निर्देश दिए। उन्होंने पीडब्ल्यूडी के एक्सईएन एनके यादव से 15 सितंबर से 15 नवंबर के मध्य चलने वाले गड्ढा मुक्त अभियान की तैयारियां जानी। शासन की मंशा के अनुरूप सभी सड़कों को अभियान के दौरान गड्ढा मुक्त बनाया जाये। उन्होंने पीएम किसान सम्मान निधि, पीएम फसल बीमा योजना, पशुओं का टीकाकरण, सामुदायिक शौचालय, ग्राम सचिवालय, मिशन कायाकल्प, सामाजिक वानिकी सहित विभिन्न विकास कार्यक्रमों की विस्तृत समीक्षा की। बैठक के अंत में डीएम डॉ अरविंद कुमार चौरसिया ने कहा कि आज की बैठक में नोडल अधिकारी द्वारा जो मार्गदर्शन एवं दिशा निर्देश दिए गए है, उनका पूर्णतया अनुपालन किया जाएगा।
बैठक में डीएम डॉ अरविंद कुमार चौरसिया एसपी विजय ढोल सीडीओ अनिल सिंह डीएफओ समीर कुमार डीएसटीओ राजेश कुमार सिंह, पीडी केके पांडेय, डीडीओ अरविंद कुमार सहित सभी जिला स्तरीय अधिकारी एवं कार्यदायी संस्थाओं के प्रतिनिधि मौजूद रहे।
*यूनिसेफ के प्रतिनिधियों ने नोडल के समक्ष दिया पौष्टिक आहार पुस्तिका का प्रेजेंटेशन*
बैठक के बाद यूनिसेफ की मंडल समन्वयक अनीता एवं फीड डाइटिशियन शाहीन ने पावर पॉइंट प्रेजेंटेशन के जरिए पौष्टिक आहार पुस्तिका का प्रजेंटेशन दिया। प्रेजेंटेशन में संतुलित आहार एवं 108 प्रकार की रेसिपी के बनाने की विधि बताई। उन्होंने बताया कि कैलोरी प्रोटीन वसा आयरन क्लोरीन कैरोटीन मैग्नीशियम जिंक जैसे जरूरी पोषक तत्व इन रेसिपी के जरिए बच्चों को दी जा सकती हैं। जिससे वह हष्ट पुष्ट होने के साथ उनके मानसिक विकास हो सके। नोडल अधिकारी ने निर्देश दिए कि इस आहार तालिका में वर्णित 108 प्रकार की पौष्टिक आहार की जानकारी आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों के जरिए गांव में दी जाए। उन्होंने बताया कि 108 प्रकार की रेसिपी घर में मौजूद खाद्य सामग्री से बड़ी आसानी से बनाया जा सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *