Gonda News:सीएचसी स्वामी नारायण छपिया में परिवार नियोजन के तहत सात महिलाओं का नसबन्दी कर फर्स पर लिटाया,वीडियो वायरल

सीएमओ ने मामले को संज्ञान में लेते हुए सीएचसी अधीक्षक से जवाब तलब कर मामले की जांच शुरू की

वायरल वीडियो को डीएम ग़ोण्डा ने लिया संंज़ान मे पूरे प्रकरण की होगी जांंच

राम नरायन जायसवाल

गोण्डा ।आप सीएचसी स्वामी नारायण छपिया के कारनामों को जानकर हैरान रह जायेंगे भगवान घनश्याम के गृह में पृथ्वी पर दूसरे भगवान रूपी डाक्टरों ने हॉस्पिटल में परिवार नियोजन के तहत सात महिलाओं को आपरेशन करने के बाद फर्श पर लिटा दिया,जिसका वीडियो सामने आने के बाद स्वास्थय विभाग व सरकार के महिला शक्ति अभियान का जहां पोल खोल दी है डीएम ने मामले को लिया संंज़ान मेंं वही सीएमओ ने पूरे प्रकरण की जांच बैठाते हुए सीएचसी अधीक्षक से जवाब तलब किया है।

विश्व प्रसिद्ध भगवान स्वामी नारायण छाप धाम जो भगवान घनश्याम की जन्म स्थली है जहां पर देश विदेश से भगवान घनश्याम का दर्शन करने वालो का प्रतिदिन ताता लगा रहता है। जिसको लेकर स्वामी नारायण छपिया धाम मन्दिर ने बाहर से आने वाले व क्षेत्रीय लोगों की स्वास्थय लाभ के लिए कई दशक पहले हॉस्पिटल के लिए जमीन भवन सहित दान की थी उसके बाद यहाँ स्वास्थय सेवायें शुरू हुई थी जो कुछ साल पहले सीएचसी के रूप में तब्दील हो गया लेकिन डाक्टरों की लापरवाही की हद इतनी बढ गयी। कि भारत सरकार की जनसंख्या की दर को रोकने वाली परिवार नियोजन योजना के तहत मंगलवार को सीएचसी में जिला से आई स्वास्थय विभाग की डाक्टरों की टीम ने सात महिलाओं का आपरेशन करने के उपरांत एक कमरे में जमीन पर लिटा दिया जबकि हॉस्पिटल के बेड खाली पडे थें।

रिपोर्टर ने हॉस्पिटल पहुंच जमीन पर पडी महिलाओं का फोटो सूट कर लिया विभाग को कानो खबर नही मिली।
इस समबन्ध में सीएचसी अधीक्षक आलोक सिंह से उनके मोबाइल पर जानकारी चाही कि किन परिस्थितियों में महिलाओं को आपरेशन करने के उपरांत फर्स पर लिटा दिया गया तो उन्होंने ने जानकारी होने से इन्कार करते हुए सीएचसी पर तैनात कम्प्युटर बाबू शिव चरन चौधरी का मोबाइल नंबर पर बात करने की बात कहते हुए फोन काट दिया।

कम्प्यूटर बाबू शिव चरन चौधरी का मोबाइल नंबर पर बात करने पर वह झल्ला गया।
सरकार द्वारा महिलाओं के उत्थान के लिए महिला शक्ति नाम से मिशन चला रही है अभी राष्ट्रीय महिला दिवस के बीते बारह घंटे भी नही हुए थे कि महिलाओं के साथ आपरेशन के नाम पर यह हैवानियत की घटना ने भगवान घनश्याम की जन्म स्थली पर स्थित भगवान रूपी डाक्टरों ने स्वामी नारायण छपिया धाम की मर्यादाओं पर गहरा आघात पहुंचाया है।

सीएमओ डाक्टर अजय सिंह गौतम ने बताया है कि कि छपिया सीएचसी अधीक्षक आलोक सिंह के द्वारा किया गया कृत काफी असहनीय है ।नसबन्दी /आपरेशन सुधा महिलाओ को बेड पर लिटाने की व्यवस्था है।वही पत्रकार के द्वारा भेजे गये वीडियो की जांच कराते हुए सीएचसी अधीक्षक से जवाब तलब किया गया है।
वायरल वीडियो को डीएम मार्केडय शाही ने भी संंज़ान मे लेते हुए स्वास्थ्य विभाग से जवाब तलब किया है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *