Gonda Colonelganj News: परसपुर पुलिस पर दो युवतियों ने लगाये गंभीर आरोप,जन सुनवाई पोर्टल के माध्यम से उच्च अधिकारियों से शिकायत

परसपुर पुलिस पर गंभीर आरोप जमीनी विवाद में दो युवतियों को थाने ले जाते समय छेडछाड करते हुए की अश्लील हरकत जन सुनवाई पोर्टल के माध्यम से उच्च अधिकारियों से शिकायत 

एसपी सिंह / ज्ञान प्रकाश मिश्रा

करनैलगंंज ,गोण्डा । थाना परसपुर क्षेत्र की एक युवती ने परसपुर पुलिस पर गम्भीर आरोप लगाते हुए उच्चाधिकारियों को शिकायत भेजी है। जिसमें युवती ने पुलिसकर्मी पर अश्लील हरकत व छेड़छाड़ का आरोप लगाया है।

ग्राम भौरीगंज निवासी एक बालिका ने जन सुनवाई पोर्टल के माध्यम से पुलिस अधिकारियों को आनलाइन प्रार्थना पत्र दिया है। जिसमे कहा गया है कि 26 नवम्बर की शाम हल्का दरोगा थाने की गाड़ी पर  महिला व पुरुष आरक्षी को बैठाकर उसके घर पहुंच गये। जहां उसके पड़ोसी राजगीर मिस्त्री व मजदूर पहले से बैठाये थे। जिसकी जानकारी उसके परिवार वालों को नही थी। पुलिस के पहुंचते ही उसके भूमि में छज्जा निर्माण का कार्य शुरू कर दिया गया। विरोध करने पर उसकी मां को महिला सिपाही के साथ थाने भेज दिया गया। देर रात्रि को छज्जा का निर्माण पूरा कराकर हल्का दरोगा व सिपाही उसे व उसकी बहन की तलाश करने लगे। डर वस दोनो बहने अपने चाची के घर में बेड के नीचे छुपी थी। जहां से दोनों बहनो को घसीटते हुये घर के बाहर ले आये और जबरन गाड़ी में बैठाकर थाने की तरफ चल दिये। रास्ते मे दरोगा व एक सिपाही ने युवतियों के साथ छेड़छाड़ व अश्लील हरकत करते हुये थाने ले जाने लगे। जिस पर दोनों युवतियों ने हल्ला गुहार करना शुरू कर दिया। जिस पर दोनों लोग उनका मुह बंद करके मुकदमा दर्ज कर जेल भेज देने की धमकी देने लगे। इतने में गाड़ी थाने पहुंच गई। जहां उनके साथ उनकी मां को भी साथ लेकर करनैलगंज ले गये। जहां कागज पर हस्ताक्षर व अंगूठा लगवाकर किसी अधिकारी के समक्ष प्रस्तुत किया और वहां से वापस लाकर गांव से करीब एक किलोमीटर पहले ही उतार कर वापस चले गये। दोनो बहनों ने मां से आप बीती बताया जिस पर दूसरे दिन उसकी माँ ने थाने पर तहरीर दिया  जहां आश्वासन देकर उसे वापस कर दिया। थक हार कर उसने उच्चाधिकारियों को ऑन लाइन प्रार्थना पत्र देकर मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई करने की मांग की है। थानाध्यक्ष परसपुर सम्पर्क नही हो सका।

सीओ मुन्ना उपाध्याय ने बताया कि मामला जानकारी में नही है। अभी तक कोई पत्र नही मिला है। प्रार्थना पत्र मिलने पर जांच करवाकर कार्रवाई की जायेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *