Lakhimpur Kheri News:मिशन शक्ति ईट भट्ठा पर काम करने वाली महिलाओं को पशुपालन विभाग ने दिया विशेष प्रशिक्षण

मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी ने विभागीय योजनाओं की जानकारी, किया जागरूक

एन.के.मिश्रा
लखीमपुर खीरी 21 अक्टूबर 2020। मिशन शक्ति के अंतर्गत जिलाधिकारी शैलेंद्र कुमार सिंह के निर्देश पर मुख्य विकास अधिकारी अरविंद सिंह के नेतृत्व में विकास विभाग भी नित्य विभिन्न कार्यक्रमों के माध्यम से महिला सशक्तिकरण हेतु जन जागरूकता अभियान चला रहा है। इसी क्रम में पशुपालन विभाग द्वारा विकासखंड नकहा के पनगी कला ग्राम में ईट भट्टों पर कार्य करने वाली महिलाओं को जागरूक करने के लिए विशेष प्रशिक्षण तथा चिकित्सा शिविर का आयोजन किया गया।


बताते चलें कि क्षेत्र में कई ईट भट्ठे हैं। जिनमें परिवहन का कार्य प्रमुखता से खच्चरो द्वारा किया जाता है। इनके मालिक अत्यंत गरीब होते हैं परंतु पशुपालन विभाग द्वारा बुक्स इंडिया (गैर सरकारी संगठन जो पूरे विश्व में घोड़ों के हितों के लिए कार्य करती है) के सहयोग से स्वयं सहायता समूह का गठन कर महिलाओं के आर्थिक स्वावलंबन में कार्य कर रही है जिसमें चेतक प्रेरणा तथा ख्वाजा अशोक कल्याण स्वयं सहायता समूह प्रमुख उपस्थित महिलाओं को पराली ना जलाए जाने हेतु ग्राम में जन जागरण करने कोरोना वायरस बचाव हेतु मास्क के निर्माण करने,समूहों के माध्यम से बकरी पालन करने, घोड़ो एवं खतरों का बीमा करने हेतु, पशुओं को टीकाकरण कराने तथा में कान में छल्ला लगवाने हेतु सहयोग करने की अपील करने के साथ जागरूक किया।

 इस अवसर पर डॉ वसी उल्लाह डॉ प्रदीप कुमार, डॉ०राणा आदि द्वारा घोड़ों का स्वास्थ्य परीक्षण एवं निशुल्क औषधि वितरण भी किया गया। कार्यक्रम में मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी डॉ टी०के० तिवारी ने नारी सशक्तिकरण पर विभाग शासन की प्राथमिकताओं की जानकारी देते हुए डीएम एवं सीडीओ के संदेशों को पढ़कर सुनाया। पराली न जलाने हेतु शपथ दिलाई। इस तरह के अनूठे कार्यक्रम से महिलाओं किशोरियों एवं पशुपालकों के उत्साह वर्धन किया गया।


मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी टी०के० तिवारी ने घोड़ों की घातक संक्रामक बीमारी गलेंडर्स की की जानकारी देते हुए विभाग द्वारा प्रतिमाह 20 घोड़ों के रक्त नमूने लेकर प्रयोगशाला जांच हेतु भेजे जाने की जानकारी दी। पशु स्वामियों से रक्त नमूना देने में सहयोग मांगा। जो पशु रोग से प्रभावित हैं उन्हें सहज दर्दरहित मृत्यु देकर नुकसान की भरपाई हेतु विभाग द्वारा पशु स्वामी के खाते में सीधे डीबीटी की माध्यम से ₹25000 मुआवजा धनराशि भेजे जाने की जानकारी दी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *