gonda colonelganj news:दीपावली मेले मोदी-योगी की फोटो न पाकर आक्रोशित हुई भाजपाई

नाराज कार्यकर्ताओ ने फूंका पुतला व एसडीएम को सौंपा ज्ञापन
एसपी सिंह / ज्ञान प्रकाश मिश्रा
करनैलगंज,गोण्डा। करनैलगंज में राज्य सरकार द्वारा आयोजित दीपावली मेले में प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री की फोटो या नाम तक न होने से गुस्साए भाजपाइयों ने विरोध में एसडीएम को ज्ञापन दिया व नगर पालिका का पुतला फूंका।
नगर पालिका परिषद करनैलगंज के नामित सभासद मुकेश वैश्य, कन्हैयालाल वर्मा,आशीष गिरि व नगर मंडल अध्यक्ष आशीष सोनी, अखिल भरतीय विद्यार्थी परिषद के ओमप्रकाश तिवारी ने संयुक्त रूप से उपजिलाधिकारी को पत्र दिया है।
नगर विकास राज्यमंत्री को दूरभाष पर सूचित किया है कि प्रदेश सरकार के निर्देशानुसार सभी नगर निगम, नगर पालिका व नगर पंचायत में दीपावली मेले का आयोजन किया जाना था। जिसके क्रम में गुरुवार की शाम 5.30 बजे एसडीएम द्वारा मेले का उद्घाटन करने के लिए आना था। मगर मेले के नाम पर केवल खाना पूर्ति की गई है। सभासदों ने संयुक्त रूप से बताया कि मंच पर मां सरस्वती का चित्र भी नही था और बैनर में प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री का फोटो व नाम नही था। मेले का उद्घाटन करने पहुंचे एसडीएम को अव्यवस्था देखकर बिना उद्घाटन किये ही वापस जाना पड़ा। नगर पालिका द्वारा आयोजित मेले के मंच पर लगाये गये बैनर में मुख्य अतिथि नपाप अध्यक्ष स्वयं थी। दुकान नही लगी थी, नगर पालिका अध्यक्ष व ईओ भी मेले में मौजूद नही थी। इस तरह सरकार के निर्देशों की अवहेलना करने वाले सम्बंधित जिम्मेदार लोगों के विरुद्ध कर्रवाई किये जाने की मांग की गई है। एसडीएम हीरालाल ने बताया प्रकरण संज्ञान में है मामले की जांच करा कर कार्रवाई की जाएगी।
प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री की फोटो या नाम तक न होने से गुस्साए भाजपाइयों ने विरोध में एसडीएम को ज्ञापन दिया
मेले में प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री की फोटो या नाम तक न होने से गुस्साए भाजपाइयों ने विरोध में एसडीएम को ज्ञापन दिया व नगर पालिका का पुतला चौक घण्टाघर पर फूंका। नगर पालिका परिषद करनैलगंज के नामित सभासद मुकेश वैश्य, कन्हैयालाल वर्मा, आशीष गिरि व नगर मंडल अध्यक्ष आशीष सोनी, अखिल भरतीय विद्यार्थी परिषद के ओमप्रकाश तिवारी ने संयुक्त रूप से उपजिलाधिकारी को पत्र दिया है। साथ ही नगर विकास राज्यमंत्री को दूरभाष पर सूचित किया है कि प्रदेश सरकार के निर्देशानुसार सभी नगर निगम, नगर पालिका व नगर पंचायत में दीपावली मेले का आयोजन किया जाना था। जिसके क्रम में गुरुवार की शाम 5.30 बजे एसडीएम द्वारा मेले का उद्घाटन करने के लिए आना था। मगर मेले के नाम पर केवल खाना पूर्ति की गई है। सभासदों ने संयुक्त रूप से बताया कि मंच पर मां सरस्वती का चित्र भी नही था और बैनर में स्थानीय जनप्रतिनिधियों की तो बात ही छोड़िये प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री का भी फोटो व नाम नही था। मेले का उद्घाटन करने पहुंचे एसडीएम को अव्यवस्था देखकर बिना उद्घाटन किये ही वापस जाना पड़ा। नगर पालिका द्वारा आयोजित मेले के मंच पर लगाये गये बैनर में मुख्य अतिथि नपाप अध्यक्ष स्वयं थी। दुकान नही लगी थी, नगर पालिका अध्यक्ष व ईओ भी मेले में मौजूद नही थी। इस तरह सरकार के निर्देशों की अवहेलना करने वाले सम्बंधित जिम्मेदार लोगों के विरुद्ध कर्रवाई किये जाने की मांग की गई है। एसडीएम हीरालाल ने बताया प्रकरण संज्ञान में है मामले की जांच करा कर कार्रवाई की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *