Lakhimpur Kheri News:खीरी में एक फरवरी से तीन फरवरी के मध्य आयोजित होगा पीएम किसान समाधान दिवस

पीएम किसान समाधान दिवस में त्रुटियों को दुरुस्त करा कर लाभान्वित होने का सुनहरा मौका
एन.के.मिश्रा
लखीमपुर खीरी।  एक फरवरी से तीन फरवरी तक पीएम किसान समाधान दिवस के आयोजन विकासखंड मुख्यालय पर स्थित राजकीय बीज गोदाम पर होगा।
डीएम शैलेंद्र कुमार सिंह ने बताया कि अपर मुख्य सचिव, (कृषि) उत्तर प्रदेश शासन ने प्रदेश के समस्त जिलों में एक फरवरी से तीन फरवरी तक पीएम किसान समाधान दिवस के आयोजन का निर्णय लिया है। इन दिवस में कृषकों की पीएम किसान से संबंधित समस्याओं का समाधान किया जाएगा।
उन्होंने बताया कि जिन किसानों का आधार नंबर गलत होने के कारण अथवा आधार के अनुसार नाम सही नहीं होने के कारण प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि का लाभ नहीं मिल पा रहा है वह किसान 01 फरवरी से 03 फरवरी तक कार्यालय अवधि में प्रातः 10:00 बजे से सायं 5:00 बजे तक अपने विकासखंड मुख्यालय पर स्थित राजकीय बीज गोदाम पर अपने आधार कार्ड बैंक खाते के विवरण के साथ पहुंचकर अपना डाटा ठीक कराएं। जिन किसानों को योजना की कम से कम एक किस्त प्राप्त हो चुकी है किंतु उनका आधार संख्या या नाम त्रुटिपूर्ण होने के कारण आगामी क़िस्त से प्राप्त नहीं हो रही हैं। ऐसे किसानों का बैंक अभिलेख में अंकित पता संबंधित बैंक के शिविर में उपस्थित बैंक कर्मी से प्राप्त करते हुए शिविर प्रभारी/ बीज गोदाम प्रभारी ऐसे कृषकों का डाटा मौके पर ही दुरुस्त कराएंगे।
पीएम किसान डॉट जीओवी डॉट इन पर जनपदीय उप कृषि निदेशक के लॉगइन के अंदर इनवेलिड आधार करेक्शन और आधार के अनुसार नाम संशोधन की प्रगति प्रदर्शित होती है। उस पर प्रदर्शित हो रही सूचना के अनुसार उप कृषि निदेशक प्रतिदिन अनुश्रवण करते हुए संशोधन हेतु की जा रही कार्यवाही पर निरंतर नजर रखेंगे। सुनिश्चित करेंगे कि सभी लंबित प्रकरणों का समाधान निर्धारित किए गए तीन दिवसों के अंदर कर लिया जाए। यह समाधान मुख्य रूप से इनवेलिड आधार तथा आधार के अनुसार नाम सही कराने के लिए आयोजित किया जा रहा है। इसके अतिरिक्त अन्य समस्याओं को लेकर किसान यदि विकासखंड पहुंचता है तो उसका भी यथोचित उत्तर व निराकरण समाधान दिवस में ही कर दिया जाए। विकासखंड स्तर पर समाधान दिवस का संचालन कृषि विभाग के बीज गोदाम प्रभारी द्वारा किया जाएगा। जिनकी सहायता के लिए उसी विकासखंड के कृषि रक्षा पर्यवेक्षक की भी ड्यूटी लगाई गई है। इन दोनों कार्मिकों के अनुश्रवण संबंधित नोडल अधिकारी द्वारा किया जाएगा। समाधान शिविर के कार्यों के पर्यवेक्षण करने के लिए जनपद के द्वितीय श्रेणी के अधिकारियों की विकासखंड बार ड्यूटी लगाई गई है।
इन अधिकारियों के पर्यवेक्षण में चलेगा पीएम किसान समाधान अभियान :
ब्लॉक लखीमपुर में सहायक आयुक्त एवं सहायक निबंधक सहकारिता, बेहजम में डीपीआरओ, नकहा में अधिशासी अभियंता नहर, फूलबेहड़ में अधिशासी अभियंता नलकूप, गोला में भूमि संरक्षण अधिकारी (गोमती), बिजुआ में सहायक निदेशक मत्स्य, बांकेगंज में जिला गन्ना अधिकारी, मोहम्मदी में प्रक्षेत्र प्रबंधक जमुनाबाद, पसगवा में भूमि संरक्षण अधिकारी (जिला योजना), मितौली में उपनिदेशक रेशम, धौराहरा में जिला उद्यान अधिकारी, ईसानगर में जिला कृषि रक्षा अधिकारी, रमिया बेहड़ में मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी, निघासन में जिला कृषि अधिकारी, पलिया में दुग्ध शाला विकास अधिकारी की पर्यवेक्षण अधिकारी के रूप में ड्यूटी लगाई गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *