Lakhimpur- Kheri-News-प्रधानमंत्री मत्स्य सम्पदा योजना’ के तहत आनलाइन आवेदन कर उठाये योजना का लाभ: सहायक निदेशक मत्स्य

एन.के.मिश्रा

 लखीमपुर खीरी।  सहायक निदेशक मत्स्य एस0के0यादव ने बताया कि जनपद लखीमपुर-खीरी में मत्स्य विकास कार्यक्रमों एवं मत्स्य उत्पादन को बढ़ावा देने के उद्देश्य से भारत सरकार द्वारा वर्ष 2020-21 से वर्ष 2024-25 तक नीली क्रान्ति योजना के स्थान पर प्रधानमंत्री मत्स्य सम्पदा योजना संचालित की गयी है। जिसके अन्तर्गत वर्ष 2020-21 में जनपद लखीमपुर-खीरी में 15.00 हे0 निजी भूमि पर तालाब निर्माण, 15.00 हे0 निजी भूमि पर मत्स्य बीज रियरिंग यूनिट की स्थापना, 2.00 हे0 तालाबों में पेन कल्चर की स्थापना एवं मत्स्य विक्रय हेतु 15 मोटर साइकिल विद् आइस बाॅक्स तथा 10 साइकिल विद् आइस बाॅक्स का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। तालाब निर्माण तथा मत्स्य बीज रियरिंग यूनिट की स्थापना हेतु परियोजना लागत 7.00 लाख प्रति हे0, पेन कल्चर हेतु परियोजना लागत 3.00 लाख प्रति हे0, मोटर साइकिल विद् आइस बाॅक्स हेतु 0.75 लाख प्रति मोटर साइकिल विद् आइस बाॅक्स, एवं साइकिल विद् आइस बाॅक्स हेतु 0.10 लाख प्रति साइकिल विद् आइस बाॅक्स परियोजना लागत निर्धारित है। मत्स्य विभाग द्वारा सामान्य श्रेणी के लाभार्थियों को 40 प्रतिशत तथा अनुसूचित जाति एवं महिला लाभार्थियों को 60 प्रतिशत अनुदान के रूप में उपलब्ध कराया जाएगा। उक्त हेतु लाभार्थियों को मत्स्य विभाग के आनलाइन पोर्टल www.fymis.upsdc . gov.in पर आवेदन करना होगा।
उन्होनें बताया कि आवेदन पत्र के साथ मत्स्य समृद्धि फार्म आवेदन पत्र फोटो सहित आधार की प्रति तथा शपथ पत्र के साथ अपलोड करना अनिवार्य होगा। जनपद में उक्त योजना 70 प्रतिशत बांकेगंज तथा निघासन विकास खण्ड में तथा 30 प्रतिशत अन्य विकास खण्डों में क्लस्टर में संचालित की जायेगी। इस सम्बन्ध में विस्तृत जानकारी सहायक निदेशक मत्स्य (मत्स्य विभाग), कमरा नं0 21 एवं 22, विकास भवन, लखीमपुर-खीरी से प्राप्त की जा सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *