Gonda News:अभियान चलाकर राजस्व वसूली कराएं अधिकारी, कर-करेत्तर एवं राजस्व वसूली की मासिक समीक्षा बैठक में जिलाधिकारी ने दिए निर्देश

राम नरायन जायसवाल

गोण्डा ।शासन द्वारा राजस्व वसूली के लिए विभागों को आंवटित लक्ष्य के सापेक्ष अभियान चलाकर वसूली कराई जाय तथा दिसम्बर माह के अन्त तक सभी विभाग अपने-अपने विभागों को आवंटित लक्ष्य के सापेक्ष वसूली में प्रगति लाएं अन्यथा कठोर कार्यवाही की जाएगी। यह निर्देश जिलाधिकारी डा0 नितिन बंसल ने कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित कर-करेत्तर एवं राजस्व वसूली की मासिक समीक्षा बैठक में सभी सम्बन्धित विभागीय अधिकारियों को दिए हैं। इसके अलावा जिलाधिकारी की बैठक से बिना सूचना के अनुपस्थित खनन अधिकारी तथा प्रभागीय वनाधिकारी से जवाब तलब किया गया है।

समीक्षा बैठक में जिलाधिकारी ने वाणिज्य कर, स्टाम्प रजिस्टेªशन, आबकारी, विद्युत, परिवहन, परिवहन निगम, मनोरंजन कर, स्थानीय निकाय, नजूल भूमि, वन विभाग, अलौह खनन, बैंक देय, श्रम विभाग, बांट एवं माप विभाग, मण्डी समिति, सिंचाई विभाग, गन्ना विभाग, मुख्य देय तथा विविध देयों की विभागवार समीक्षा की। समीक्षा बैठक में ज्ञात हुआ कि माह नवम्बर में 19 विभागों को मिलाकर कुल 7437.23 लाख रूपए की वसूली का लक्ष्य था जिसके सापेक्ष 6218.74 लाख रूपए की वसूली हुई है तथा वार्षिक कुल लक्ष्य 92265.76 लाख रूपए के सापेक्ष 43.08 प्रतिशत की वसूली हुई है। जिलाधिकारी ने सभी अधिकारियों को सख्त निर्देश दिए हैं अभियान चलाकर राजस्व वसूली की जाय।

बैठक में वसूली की समीक्षा के दौरान बांट माप, परिवहन निगम, विद्युत विभाग की स्थिति अच्छी पाई गई जबकि स्थानीय निकाय, सिंचाई, श्रम विभाग, अलौह खनन, परिवहन तथा वाणिज्य कर विभाग द्वारा वसूली की प्रगति संतोषजनक नहीं मिली। जिलाधिकारी ने सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि वे अभियान चलाकर अपने-अपने विभागों के निर्धारित लक्ष्य की प्राप्ति माह अन्त तक प्रत्येक दशा में सुनिश्चित करें। बैठक में जिलाधिकारी ने बांट माप अधिकारी को सख्त निर्देश दिए कि यह प्रत्येक दशा में सुनिश्चित कराएं कि गन्ना तौल में कहीं भी घअतौली की शिकायत  न आने पाए। अधिशासी अधिकारियों को निर्देश दिए कि कूड़ा निस्तारण की समुचित व्यवस्था सुनिश्चित करें तथा कूड़े के ढेर में आग कतई न लगाई जाय, यह भी सुनिश्चित करें।

जिलाधिकारी ने भूमि विवादों, विशेषकर सार्वजनिक स्थलों, पंचायत भवनों, सामुदाियक स्वास्थ्य केन्द्रों आदि के सभी विवादों को स्वयं मौका मुआइना करके निस्तारित करने के निर्देश सभी एसडीएम को दिए हैं। पारिवारिक लाभ योजना, निर्विवाद वरासत के मामलों, कन्या सुमंगला योजना के तहत लम्बित प्रकरणों, शादी अनुदान योजना, पीएम किसान सम्मान निधि के लम्बित आवेदनों, धान खरीद की स्थिति आदि की गहन समीक्षा की तथा एक सप्ताह में सभी लम्बित प्रकरणों को निस्तारित करने के निर्देश दिए।

बैठक में अपर जिलाधिकारी राकेश सिंह, सीआरओ आरआर प्रजापति, एसडीएम सदर कुलदीप सिंह, मनकापुर हीरालाल, तरबगंज राजेश कुमार, करनैलगंज ज्ञानचन्द्र गुप्ता, परिवीक्षाधीन एसडीएम शत्रुघ्न पाठक, तहसीलदार सदर पैगाम हैदर, तरबगंज पुष्कर मिश्रा, करनैगलगंज बृज मोहन यादव, जिला आबकारी अधिकारी, एआईजी स्टाम्प, एसओसी, एआरटीओ, एक्सईएन विद्युत,  श्रम प्रवर्तन अधिकारी सहित अन्य अधिकारी व कर्मचारी उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *