Gonda News:01 अक्टूबर से शुरू होगा संचारी रोग नियंत्रण एवं दस्तक अभियान, सीडीओ ने बैठक कर तय की रूपरेखा

कोविड-19 पाजिटिव केसेज की कान्टैक्ट ट्रैसिंग बढ़ाने पर विशेेष जोर

राम नरायन जायसवाल

गोण्डा ।शासन के निर्देशों के क्रम में अक्टूबर में प्रस्तावित विशेष संचारी रोग नियंत्रण अभियान तथा संचारी रोगों एवं दिमागी बुखार पर प्रभावी नियंत्रण एवं कार्यवाही हेतु अभियान शुरू किया जाएगा। अभियान को पूर्ण रूप से सफल बनाने के लिए जिलाधिकारी डा0 नितिन बंसल के निर्देश पर मुख्य विकास अधिकारी शशांक त्रिपाठी की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में अन्तर्विभागीय बैठक सम्पन्न हुई।


बैठक में मुख्य विकास अधिकारी ने अभियान से जुड़े सभी विभागीय अधिकारियों को निर्देश दिए कि शासन द्वारा उनके विभागों के लिए निर्धारित दायित्वों का बेहतर ढंग से क्रियान्वयन करें ताकि अभियान को सफल बनाया जा सके। उन्होंने कहा कि संचारी रोगों तथा दिमागी बुखार पर प्रभावी नियंत्रण तथा इनके त्वरित उपचार हेतु वर्ष 2020 में माह मार्च एवं जुलाई में विशेष संचारी रोग नियंत्रण अभियान का आयोजन सम्पन्न हो चुका है तथा संचारी रोग नियंत्रण अभियान एवं दस्तक अभियान का तृतीय चरण प्रदेश के समस्त 75 जनपदों में आगामी 01 अक्टूबर से 31 अक्टूबर तक चलेगा। संचारी रोग नियंत्रण अभियान चलाते हुए माह मार्च एवं जुलाई में संचालित की गयी सभी गतिविधियों की पुनः विस्तृत कार्ययोजना बनाकर संचालित की जाएँगी। उन्होंने सभी विभागों से आगामी 26 सितम्बर तकक प्रत्येक दशा में माइक्रोप्लान उपलब्ध कराने के निर्देश दिए हैं।


उन्होंने निर्देश दिए कि साफ-सफाई, कचरा निस्तारण, जल भराव रोकने तथा शुद्ध पेयजल उपलब्धता पर विशेष जोर देते हुए सभी विभाग व्यवहार परिवर्तन तथा प्रचार-प्रसार की भी व्यापक योजना बनाएं, जिससे जन सामान्य तक सभी जानकारियों की सुलभ उपलब्धता सुनिश्चित की जा सकें।  उन्होंने कहा कि शासन द्वारा अक्टूबर माह में आयोजित किए जा रहे दस्तक अभियान के स्वरूप में दो महत्वपूर्ण परिवर्तन किए गए हैं जिसके अनुसार इस माह में आशा कार्यकर्ती घर-घर भ्रमण के दौरान बुखार के रोगियों के साथ ही खांसी तथा साँस लेने में परेशानी के लक्षण के रोगियों के विषय में भी जानकारी प्राप्त करेंगी तथा ऐसे रोगियों की सूचना प्राप्त होने पर उनको निर्धारित प्रपत्र पर सूचीबद्ध कर सूचना ब्लॉक मुख्यालय को प्रेषित करेंगी तथा विगत माह फरवरी से माह अगस्त 2020 के मध्य नियमित टीकाकरण के अनेक सत्र कोविड रोग के कारण आयोजित नहीं किए जा सके, जिसके फलस्वरूप अनेक शिशु टीकाकरण से वंचित रह गए हैं। ऐसी स्थिति मेंऐसे समी शिशुओं को चिन्हित एवं सूचीबद्ध कर समयबद्ध कार्य योजना बनाते हुए इन सभी शिशुओं का नियमित टीकाकरण कराया जाय। उन्होंने निर्देश दिए कि आशा कार्यकत्री माह अक्टूबर के दस्तक अभियान में घर-घर भ्रमण के दौरान प्रत्येक परिवार में माह जनवरी 2020 से माह सितंबर 2020 के बीच नए जन्मे शिशु का नाम तथा पता अंकित करते हुए उनके अभी तक किए गए संपूर्ण टीकाकरण का विवरण निर्धारित प्रपत्र पर अंकित कर ब्लॉक मुख्यालय को उपलब्ध कराएंगी जिससे यह आंकलन किया जा सके कि कितने शिशु टीकाकरण से वंचित रह गए हैं। माह अक्टूबर के उत्तरार्ध से प्रारंभ करते हुए माह दिसंबर तक कोविड रोग के प्रसार के कारण टीकाकरण से वंचित रह गए ऐसे सभी शिशुओं का नियमित टीकाकरण कार्ययोजना बनाकर पूर्ण किया जाएगा।


मुख्य विकास अधिकारी ने कहा कि इन रोगों की रोकथाम हेतु विभिन्न विभागों के बीच आपसी समन्वय स्थापित करते हुए एक साथ कार्यवाही करना आवश्यक है, जिसके लिए पूर्व में दिए गए निर्देशों के अनुसार जनपद तथा ब्लाक स्तर पर समन्वय समितियों का गठन कर नियमित अंतराल पर विभिन्न विभागों द्वारा किये गए कार्य तथा जनपद में रोग की स्थिति की समीक्षा हेतु इन समितियों की बैठक आयोजित की जानी है।  मुख्य चिकित्साधिकारी ने बताया कि अभियान के आयोजन के लिए गतिविधियों की समय सारिणी, बैठक, प्रशिक्षण समय सारिणी जारी कर दी गई है।


    बैठक में ही कोविड-19 की समीक्षा के दौरान सीडीओ श्री त्रिपाठी ने सख्त निर्देश दिए कि कोविड पाजिटिव मरीजों से सम्बन्धित कान्टैक्ट ट्रैसिंग पर विशेष जोर दिया जाय तथा लेवल-2 स्तर के मरीजों को डेडीकेटेड कोविड हास्पिटल गोण्डा में  ही भर्ती कराया जाय। संचारी रोगों से रोकथाम के लिए उन्होंने नगर निकायों के अधिकारियों तथा जिला पंचायतराज अधिकारी को निर्देश दिए हैं कि अभियायन चलाकर नगर व ग्रामीण क्षेत्रों में छिड़काव कराएं जिससे संक्रामका रोगों पर प्रभावी अंकुश लगाया जा सके।


बैठक में सीएमओ डा0 मध्धु गैरोला, सीएमएस महिला अस्पताल डा0 ए0पी0 मिश्र, जिला समाज कल्याण अधिकारी मोतीलाल, डीपीओ मनोज कुमार, जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डा0 देवराज, बीएसए डा0 इन्द्रजीत प्रजापति, डीसीपीएम डा0 आर0पी0 सिंह, डीपीएम अमरनाथ, डीएमसी शेषनाथ सिंह, डा0 मलिक आलमगीर, जिला विद्यालय निरीक्षक अनूप श्रीवास्तव सहित अन्य विभागीय अधिकारी, प्रभारी चिकित्साधिकारीगण उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *