Gonda Carnailganj News:तहसीलदार की कार्य शैली से नाराज अधिवक्ताओं ने गोण्डा-लखनऊ मार्ग जाम कर एसडीएम को ज्ञापन सौंपा

तहसीलदार की कार्य शैली से नाराज अधिवक्ताओं ने गोण्डा-लखनऊ मार्ग जाम कर एसडीएम को सौंपा ज्ञापन

एसपी सिंह / ज्ञान प्रकाश मिश्रा
करनैलगंज, गोण्डा । करनैलगंज तहसील में वकीलों के आंदोलन को देखते हुए तहसील परिसर पुलिस छावनी में तब्दील कर दिया गया। उसके बावजूद अधिवक्ताओं ने नारेबाजी करते मार्ग जाम कर दिया। तहसीलदार की कार्यशैली से क्षुब्ध अधिवक्ताओं ने गोंडा लखनऊ मार्ग जाम कर उपजिलाधिकारी को ज्ञापन सौंपा। इस दौरान करीब आधा घण्टा तक मार्ग का आवागमन बाधित रहा।
बुधवार को संघ के अध्यक्ष संजय मिश्रा व मंत्री सूर्यकांत तिवारी वेद की अगुवाई में तहसील संघ भवन से अधिवक्ताओं का हुजूम निकला। हुजूम सीधे गोंडा लखनऊ मार्ग पर पहुंचकर सड़क जाम कर नारेबाजी करने लगा। वहीं भारी संख्या में पुलिस बल के साथ सीओ मुन्ना उपाध्याय, कोतवाल करनैलगंज प्रदीप कुमार सिंह व थानाध्यक्ष परसपुर राजनाथ सिंह अधिवक्ताओं को समझाकर आवागमन बहाल कराने की कोशिश करते रहे। मगर अधिवक्ता अपनी मांग पर अड़े रहे।
मौके की स्थित देखकर पुलिस अधिकारियों के साथ उपजिलाधिकारी हीरालाल भी मौके पर पहुंचे। अधिवक्ताओं को समझा बुझाकर ज्ञापन लेकर मार्ग का आवागमन बहाल कराया। इस बीच करीब आधा घन्टे तक आवागमन बाधित रहा। तहसील पहुंचकर अधिवक्ताओं ने कार्यालय व न्यायालय में तालाबन्दी कराना शुरू किया। जिस पर उपजिलामजिस्ट्रेट व तहसीलदार का न्यायालय बन्द कराने के लिये अधिवक्ता व पुलिस बल के बीच काफी देर तक रस्सा कसी होती रही।
कोतवाल प्रदीप कुमार सिंह ने दोनों न्यायालय का दरवाजा बन्द करवाकर गतिरोध समाप्त कराया। त्रिलोकीनाथ तिवारी, हृदयनरायन मिश्र, सत्यनरायन सिंह, करमचंद मिश्र, धर्मेंद्र कुमार मिश्र, दिनेश गोस्वामी आदि अधिवक्ता मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *