Gonda News:हिट एण्ड रन केस के पीड़ित परिवारों को एक हफ्ते में सहयोग राशि दिलाएं आरटीओ – डीएम

डीएम की अध्यक्षता में सड़क सुरक्षा समिति की बैठक सम्पन्न
हैवी ट्रैफिक वाले कस्बों के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर ट्रामा सेन्टर बनाए जाने हेतु शासन को भेजा जाएगा प्रस्ताव’
राम नरायन जायसवाल
गोण्डा। डीएम मार्कण्डेय शाही ने सड़क सुरक्षा समिति की बैठक में हिट एण्ड रन केस के पीड़ित परिवारों को सोलेशियम फण्ड से तथा सार्वजनिक वाहनों से दुर्घटना के शिकार हुए लोगों को वर्ष 2005 से अब तक सहायता राशि न दिलाने तथा दुर्घटना में घायलों की मदद करने वाले लोगों को सेमिरटन योजना के तहत अब तक प्रोत्साहन राशि न दिलाए जाने पर आरटीओ को कड़ी फटकार लगाते हुए एक हफ्ते में निस्तारण न कराने पर शासन को संदर्भित करने की चेतावनी दी है। इसके साथ ही पीटीओ मथुरा प्रसाद द्वारा प्रवर्तन कार्य न करने पर उन्हें कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश दिए हैं।
सड़क सुरक्षा समिति की बैठक में डीएम ने जनपद में चिन्हित 113 ब्लैक स्पाट्स सहित दो नए ब्लैक स्पाट्स का पुलिस, परिवहन व पीडब्लूडी  विभाग के अधिकारियों द्वारा संयुक्त निरीक्षण कर सउ़क हादसे न हों इसके लिए कार्य योजना बनाकर तत्काल कार्यवाही कराने के निर्देश दिए हैं। इसके अलावा गोण्डा-लखनऊ फोरलेन मार्ग पर गलत ढंग से बने कट्स को बन्द कराकर उचित जगहों पर कट्स बनवाने के निर्देश लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों को दिए हैं।
जिलाधिकारी ने कहा कि सड़क दुर्घटना में घायलों को त्वरित व उच्च गुणवत्ता का इलाज दिलाने के लिए जनपद में हैवी ट्रैफिक वाले कस्बों के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर ट्रामा सेन्टर बनवाए जाने के लिए शीघ्र ही शासन को पत्र भेजा जाएगा।
हिट एण्ड रन केस की समीक्षा के दौरान ज्ञात हुआ कि वर्ष 2019 के लम्बित 52 मामलों में  परिवहन विभाग की लापरवाही के कारण पीड़ित परिवारों को सोलशियम फण्ड से सहयोग राशि नहीं मिल सकी है। इसी प्रकरा सार्वजनिक वाहनों से होेने वाली दुर्घटनाओं में वर्ष 2005 से कोई कार्यवाही नहीं की गई है।
 इससे नाराज डीएम ने मीटिंग में ही मौजूद आरटीओ व एआरटीओ को कड़ी फटकार लगाते हुुए एक सप्ताह में लम्बित  सभी प्रकरणों को निस्तारित कर रिपोर्ट देने के निर्देश दिए हैं। जिलाधिकारी ने कहा कि सड़क दुर्घटना में घायलों को तत्काल रेश्क्यू करने के लिए ट्रामा एम्बुलेन्स उपलब्ध कराने के लिए उनके द्वारा राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण को पत्र भेजा जाएगा। जिलाधिकारी ने एआरटीओ व सीएमओ को कड़े निर्देश दिए कि वे ड्राइवरों की आंखों की जांच कराने के लिए कैम्प लगवाएं तथा आवश्यक को तो उन्हें निःशुल्क चश्मा भी उपलब्ध कराएं। स्कूलो में यातायात नियमों की जानकारी देने के साथ ही यातायात के विभिन्न चिन्हों के बारे में भी छात्र-छात्राओं को जागरूक करने के निर्देश पुलिस व शिक्षा विभाग के अधिकारियों को दिए गए हैं।
बैठक में एडीएम राकेश सिंह, एएसपी शिवराज, सीआरओ आर0आर0 प्रजापति सिटी सीएमओ डा0 अजय सिंह गौतम, मजिस्ट्रेट वन्दना त्रिवेदी, आरटीओ अजय यादव, एसडीएम वीर बहादुर यादव व शत्रुघ्न पाठक, एआरटीओ बबिता वर्मा, डीसीओ ओपी सिंह, समिति के सदस्य संजीव सिंह सहित अन्य अधिकारी तथा सदस्यगण उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *