Gonda Colonelganj News:एसडीएम का तानाशाही रवैया अब लोगों को अखरने लगा है,अमर्यादित शब्द बोलना, अभद्रता करना अब कर्मचारियों के साथ आम लोगों तक पहुंचा

एसपी सिंह / ज्ञान प्रकाश मिश्रा

करनैलगंज(गोंडा)। करनैलगंज एसडीएम का तानाशाही रवैया अब लोगों को अखरने लगा है। तैश में आकर लोगों के साथ अमर्यादित शब्द बोलना, अभद्रता करना अब कर्मचारियों के साथ आम लोगों तक पहुंच चुका है। एक नवनिर्वाचित प्रधान के प्रति अमर्यादित शब्दों का प्रयोग करते हुए अभद्र व्यवहार व अश्लील गाली देकर अपमानित करने के मामले ने तूल पकड़ लिया है। शोसल मीडिया पर वायरल वीडियो से उनका तानाशाहीपूर्ण रवैया उजागर हुआ है। चुनाव के दौरान कई कर्मचारियों व लोगों के साथ अभद्रता का मामला आया।

एसडीएम के इस रवैये से लोगों में आक्रोश है। कई प्रधानों ने इसे आपत्तिजनक बताते हुए निंदा की है तथा इसकी शिकायत मुख्यमंत्री से करने की बात कही है। करनैलगंज तहसील में कार्यरत एसडीएम शत्रुघ्न पाठक द्वारा एक ग्राम प्रधान को गाली देते हुए सार्वजनिक रूप से अपमानित कर अभद्रता करने का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। मामला करनैलगंज के थाना कटरा बाजार के ग्राम छतौरा का है। जहां निजी भूमि से मिट्टी निकाल कर सामाजिक कार्य के लिए रास्ते की मरम्मत करा रहे नवनिर्वाचित ग्राम प्रधान को कुछ लोगों के इशारे पर बिना किसी शिकायत के 23 मई रविवार को शाम को गांव में पहुंच कर उपजिलाधिकारी द्वारा तानाशाही पूर्ण रवैया अपनाकर अपमानित करके पिटाई करते हुए मुकदमा दर्ज कर ग्राम प्रधान को हवालात में बंद करके चालान करने के मामले में वीडियो वायरल हुआ है। वायरल वीडियो में उप जिलाधिकारी शत्रुघ्न पाठक द्वारा ग्रामसभा के प्रधान मुहम्मद उमर को गाली दिया जा रहा है।

वायरल वीडियो में एसडीएम द्वारा अपमानजनक, अश्लील एवं अभद्र, उत्तेजक भाषा का प्रयोग किया जाना और सार्वजनिक रूप से अपमानित किया जाना स्पष्ट सुनाई और दिखाई पड़ रहा है। इस वीडियो में एसडीएम नवनिर्वाचित ग्राम प्रधान को अपमानजनक शब्दों का प्रयोग करते दिखाई दे रहे हैं। सोशल मीडिया पर सामने आया यह वीडियो 23 मई 2021 दिन रविवार की शाम का बताया जा रहा है। ग्राम छतौरा के विपिन पांडेय, कन्हैया पांडेय, रमेश आदि ग्रामीणों का कहना है कि गांव में एक अनुसूचित जाति के व्यक्ति के यहां लड़की की शादी थी। गांव में आने जाने के रास्ते पर पानी भरा होने से हम लोगों ने प्रधान से कहा कि गांव में आने जाने का कोई रास्ता सही नहीं है।लोगों के कहने पर प्रधान निजी भूमि से मिट्टी खुदवा कर रास्ता सही करा रहे थे। तभी बगैर किसी शिकायत के पुलिस के साथ एसडीएम पहुंच कर प्रधान को ट्रैक्टर ट्राली सहित पकड़ ले गए और थाने में बंद कर दिए। इसके पहले भी उपजिलाधिकारी शत्रुघ्न पाठक एक प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र व सरकारी स्कूल के शिक्षक, शिक्षामित्रों के साथ ऐसे व्यवहार कर चुके हैं। एसडीएम का कहना है कि गलत कार्य नही होने दिया जाएगा। कहीं से गलत या गैर कानूनी कार्य की सूचना मिलेगी तो कार्रवाई होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *