Lakhimpur- Kheri-News-धौरहरा क्षेत्र में शारदा नदी का बढ़ा जलस्तर,कई गांवों के घरों में भरा पानी

सरकारी स्कूल के सामने धारा बहने से कामकाज ठप

एन.के.मिश्रा

धौरहरा (लखीमपुर-खीरी)।पहाड़ों पर हुई बरसात के बाद उफनाई शारदा नदी का पानी तहसील धौरहरा क्षेत्र के कई गांवों में   घरों में भरने से लोगों की परेशानियां बढ़ने लगी है। बनबसा बांध से छोड़े गए लाखों क्यूसेक पानी ने तहसील धौरहरा में तबाही मचा दी है। स्थिति ये है जहाँ सैकड़ों एकड़ खड़ी फसल जलमग्न हो गई है वहीँ हज़ारों असियांनो में पानी भर जाने के कारण लोग सड़क पर आ गए है। वहीं इस बार लोग विगत सात वर्ष पहले शारदा नदी द्वारा मचाई गई तबाही को सोचकर घबरा रहे है।

जानकारी के अनुसार तहसील धौरहरा में जहां घाघरा नदी का जलस्तर कम होने से प्रशासन ने राहत की सांस ली है वहीं शारदा नदी का जलस्तर बढ़ने से तहसील क्षेत्र के तमाम गांव बाढ़ की चपेट में आकर सड़क पर आ गए है। जिससे तहसील प्रशासन के माथे पर चिंता की लकीरें देखी जा सकती है। तहसील क्षेत्र के गांव रैनी समदहा में जहां शारदा तबाही मचाये हुए है। वहीं महराजनगर,भरेठा, मूसेपुर सुलतानापुर समेत दर्जनों गाँवों में शारदा का पानी घुस गया है।

मूसेपुर गांव को जाने वाले मुख्य संपर्क मार्ग पर ही करीब तीन फुट पानी चल रहा है। साथ ही गांव के दर्जनों घरों में पानी घुसने से लोगों की परेशानी बढ़ गई है। मंगलवार को गांव के बाहर बने प्राथमिक विद्यालय के सामने कई फुट पानी की धारा बह निकलने से कामकाज ठप हो गया।शारदा नदी का पानी भरने से मूसेपुर गांव निवासी रोजली का टीनशेड भरभरा कर गिर गया जिसमें रखा सामान नष्ट हो गया। वहीं छेदी लाल अवस्थी का कच्चा बंगला गिरने से उसके अंदर बैठे लोग बाल बाल बच निकले।

इसी गांव में इंसाद अली के घर में व चारों ओर जलधारा बहने से  इनका परिवार सड़क पर आ गया है। साथ ही बैजू,पप्पू,अली रजा,नंदराम,मुरली,जमुना बकरीद समेत दर्जनों घरों में पानी भरा हुआ है। अचानक हुए जलभराव की सूचना गांव के ही सुनील तिवारी,अनीस ने हल्का लेखपाल को देकर पीड़ितों की मदद के लिए गुहार लगाई है। वहीं कुछ लोगों का मानना है कि इसी तरह हालात बने रहे तो आम जनजीवन अस्त व्यस्त हो जायेगा। लोग महीनों तक सड़क पर रहने को मजबूर हो जायेंगें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *