Lakhimpur Kheri News:एडीएम ने शीतलहर से बचाव हेतु बताएं सुरक्षात्मक उपाय

एन.के.मिश्रा

लखीमपुर खीरी। अपर जिलाधिकारी (वित्त एवं राजस्व) संजय कुमार सिंह ने शीतलहर से बचाव हेतु सुरक्षा उपायों की जानकारी देते हुए बताया कि स्थानीय रेडियो, दैनिक समाचार पत्र, टीवी एवं मोबाइल फोन के जरिए मौसम की जानकारी लेते रहे। कोयले की अंगीठी, मिट्टी का चूल्हा, हीटर इत्यादि का प्रयोग करते समय सावधानी बरतें तथा कमरे में शुद्ध हवा का आवागमन वेंटीलेशन वायु संचार बनाए रखें, ताकि कमरे में विषाक्त जहरीला धुआं इकट्ठा ना हो।
उन्होंने बताया कि शरीर को सूखा रखें, गीले कपड़े तुरंत बदल ले, यह आपके शरीर को नुकसान पहुंचा सकते हैं। घर में अलाव के सामान ना हो, तो अत्यधिक ठंड के दिनों में सामुदायिक केंद्रों एवं स्थलों पर जाएं, जहां प्रशासन द्वारा अलाव का प्रबंध किया गया हो। कई स्तरों पर गर्म कपड़े जैसे ऊनी कपड़े स्वेटर टोपी मफलर इत्यादि का प्रयोग आपको शीत दंश से बचा सकते हैं। अत्यधिक ठंड कोहरा पड़ने पर छोटे बच्चों और बुजुर्गों को जितना हो सके घर के अंदर रखें। शरीर में ऊष्मा का प्रवाह बनाए रखने के लिए पोषक आहार एवं गर्म पेय पदार्थों का सेवन करें। हाइपोथर्मिया के लक्षण हों (जैसे असामान्य शरीर का तापमान भ्रम या स्मृति हानि बेहोशी विचलन असीमित छोड़ना सुस्ती थकान थकावट इत्यादि की स्थिति उत्पन्न होने पर) अपने नजदीकी अस्पताल में संपर्क करें। शीत दंश के लक्षणों जैसे शरीर के अंगो का सुन्न पड़ना हाथों पैरों की उंगलियों का नाक आदि पर सफेद या पीले रंग के दाग उधर आने पर अपने नजदीकी अस्पताल में संपर्क करें। अगर बिजली विफल हो जाती है तो फ्रीजर का दरवाजा बंद रखने पर फ्रीज़र 48 घंटे तक भोजन को सुरक्षित रखेगा। अपने आसपास के अकेले रहने वाले किसी भी पड़ोसी की जानकारी रखें खासकर बुजुर्गों की एवं किसी भी आपात स्थिति में नजदीकी पुलिस स्टेशन पर संपर्क करे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *