Lakhimpur Kheri News:रानी लक्ष्मीबाई के जन्म दिवस की पूर्व संध्या  पर स्त्री शक्ति दिवस कार्यक्रम का आयोजन किया गया

शक्ति दिवस मनाया गया
एन के मिश्र
लखीमपुर खीरी। भगवानदीन आर्य कन्या स्नातकोत्तर महाविद्यालय में  अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के संयुक्त तत्वावधान में मिशन शक्ति के तीसरे चरण के अंतर्गत रानी लक्ष्मीबाई के जन्म दिवस की पूर्व संध्या  पर स्त्री शक्ति दिवस कार्यक्रम का आयोजन किया गया। महाविद्यालय की प्राचार्य डॉ वीणा गोपाल मिश्रा ने कार्यक्रम की अध्यक्षता की।
मुख्य अतिथि एबीवीपी के विभाग संगठन मंत्री श्री पंकज पाठक एवं विशिष्ट अतिथि  विभाग छात्र प्रमुख निहारिका त्रिवेदी रही। कार्यक्रम का संचालन करते हुए हिंदी विभाग के एसोसिएट प्रोफेसर डॉक्टर सुशीला सिंह ने कहा कि झांसी की रानी एवं झलकारी बाई जैसे महान महिलाएं हमारे लिए प्रेरणा स्रोत हैं। मुख्य अतिथि पंकज पाठक ने कहा कि भारत की विदुषी महिलाएं ही पूरे विश्व और भारत की लड़कियों और महिलाओं के लिए प्रेरणा स्रोत हैं हमें कहीं अन्यत्र देखने की आवश्यकता नहीं है। हिंदी विभागाध्यक्ष एसोसिएट प्रोफेसर डॉ शशि प्रभा बाजपेई ने छात्राओं को प्रेरित करते हुए कहा कि रानी लक्ष्मी बाई का जीवन हम सभी के लिए अनुकरणीय है। अध्यक्षीय उद्बोधन देते हुए प्राचार्य डॉ वीणा गोपाल मिश्रा ने कहा 70, 80 वर्ष पूर्व जब कोई घर से निकलता था तो बड़े बुजुर्ग कहते थे कि घर जल्दी आ जाना क्योंकि रास्ते में जंगल पड़ता है और जानवर मिल सकते हैं लेकिन 21वीं सदी में जब महिलाएं बेटियां घर से बाहर निकलती है तो बड़े बुजुर्ग कहते हैं कि सूरज ढलने से पहले घर वापस आ जाना तो आज के समाज में यह प्रश्न उठ रहा है कि क्या हमारी सभ्यता आज भी उसी दशक में है हमारा समाज आगे जा रहा है या पीछे यह सोचने का विषय है।
जैसे वीरांगना और राष्ट्रपुरुष आजादी के समय हुए थे आज क्यों नहीं हो सकते हैं क्या आज सभी मांओं की कोख बंजर हो गई है जो ऐसे वीरांगनाओं को जन्म नहीं दे रही।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *