Lakhimpur Kheri News:श्रमिक जागरूकता व हितलाभ वितरण समारोह,श्रम-सेवायोजन मंत्री ने किया कार्यक्रम का शुभारंभ

3844 लाभार्थियों को बाटी योजनाओं की सौगाते

एन.के.मिश्रा
लखीमपुर खीरी । प्रदेश के कबीना मंत्री श्रम एवं सेवायोजन स्वामी प्रसाद मौर्य ने शहर के विलोबी मैदान में जिले के श्रमिकों को जनकल्याणकारी योजनाओं की सौगात दी। 3844 लाभार्थियों (2897 पुरुष व 947 महिला) को 02 करोड़ 21 लाख 80 हजार धनराशि देकर श्रम विभाग की विभिन्न योजनाओं से लाभान्वित किया गया।

अपने निर्धारित भ्रमण कार्यक्रम के अनुसार कबीना मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य जनपद लखीमपुर खीरी पहुंचे। जहां डीएम शैलेंद्र कुमार सिंह ने उनके जनपद आगमन पर स्वागत किया। विलोबी मैदान में कबीना मंत्री ने दीप प्रज्वलन कर श्रमिक जागरूकता एवं हितलाभ वितरण कार्यक्रम का शुभारंभ किया। इस दौरान विधायक गोला गोकर्णनाथ अरविंद गिरी सांसद प्रतिनिधि सुमित तिवारी, डीएम शैलेंद्र कुमार सिंह सीडीओ अरविंद सिंह, अपर श्रम आयुक्त लखनऊ मंडल बीके राय मौजूद रहे। कार्यक्रम का सफल संचालन सहायक श्रम आयुक्त डॉ महेश कुमार पांडेय ने किया।

कार्यक्रम के आरंभ में डीएम शैलेंद्र कुमार सिंह ने श्रमिक जागरूकता एवं हितलाभ वितरण समारोह की आवश्यकता एवं प्रासंगिकता पर विस्तृत प्रकाश डाला। वही जिले में विभिन्न योजनाओं के तहत उल्लेखनीय उपलब्धियों की जानकारी दी उन्होंने कहा कि जिले में श्रमिक पंजीयन अधिष्ठान पंजीयन लाभान्वित श्रमिक सहित विभिन्न योजनाओं में जिले में उल्लेखनीय प्रगति हुई है।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए प्रदेश के कबीना मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य ने कहा कि केंद्र व प्रदेश सरकार सबका साथ सबका विकास एवं सबका विश्वास के संकल्प के साथ पूरे मनोयोग से काम कर रही है। समाज के अंतिम पायदान वालों लोगों को विकास की मुख्यधारा से जोड़ने, सिर उठाकर जीने हेतु निर्माण कामगारों हेतु विभागीय योजनाएं परोसी जा रही। पूरे उप्र में श्रमिकों के चेहरे पर मुस्कान लाने व उनके कल्याणर्थ अनेक योजनाओं को संचालन किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि पंजीयन से वंचित श्रमिक अपना पंजीयन कराकर विभिन्न जनकल्याणकारी योजनाओं का लाभ पा सकते हैं। उन्होंने कहा कि अक्टूबर 2020 से मार्च 2021 तक निशुल्क पंजीयन व नवीनीकरण की व्यवस्था की। पंजीकृत महिला श्रमिकों हेतु प्रसूता काल के दौरान 03 माह का वेतन एवं ₹1000 दिए जाने का प्रावधान है। पंजीकृत श्रमिकों को विभिन्न योजनाओं की जानकारी देकर लाभान्वित होने के अवसरों के संबंध में विस्तार से जानकारी दी। पंजीयन के लिए भटकने की आवश्यकता नहीं बल्कि जन सुविधा केंद्रों के माध्यम से ऑनलाइन पंजीयन कराएं। केंद्र-प्रदेश सरकार ने श्रमिकों के लिए चलाई जा रही योजनाओं में सेंधमारी करने वालों व बिचौलियों पर प्रभावी कार्रवाई कर दूर किया व सभी योजनाओं को ऑनलाइन करते हुए पैसा सीधे उनके खाते में अंतरित करने की व्यवस्था की। ताकि पूरी पारदर्शिता से योजनाओं का लाभ पात्र लाभार्थियों तक पहुंच सके।

उन्होंने कहा कि सोमवार को मुरादाबाद में 2500 श्रमिकों की पुत्रियों का विवाह बड़ी धूमधाम से होगा। जिसमें मुख्यमंत्री स्वयं मौजूद रहेंगे। शादी का पूरा खर्च स्वयं श्रम विभाग उठाएगा। श्रमिक की बेटी हेतु 55,000, सामूहिक विवाह हेतु 75000 जिसमें 65000 श्रमिक पिता के खाते में एवं दस हजार की धनराशि वर वधू के वस्त्र हेतु दिए जाने का प्रावधान किया है।

*श्रमिकों की पुत्रियों को मिली साइकिल, खिल उठे चेहरे*
श्रम एवं सेवायोजन मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य ने संत रविदास शिक्षा सहायता योजना साइकिल हितलाभ अंतर्गत श्रमिकों की हाईस्कूल व इंटरमीडिएट में अध्यनरत 115 बालिकाओं व 64 बालकों कुल 179 लाभार्थियों को साइकिल की सौगात दी। साइकिल पाकर श्रमिकों की पुत्र पुत्रियों के चेहरे खिल उठे। उन्होंने बालक बालिकाओं की साइकिलों को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। इस दौरान उन्होंने कई बालक बालिकाओं से बातचीत की।

*गंभीर बीमारी हेतु श्रमिकों की बीमारी का खर्च उठाएगा श्रम विभाग : मौर्या*
कबीना मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य ने कहा कि कैंसर हार्ट किडनी लिवर ट्रांसप्लांट न्यूरो सर्जरी सहित अन्य गंभीर बीमारियों में पंजीकृत श्रमिकों के इलाज का पूरा खर्च श्रम विभाग उठाएगा। यह इलाज सरकारी चिकित्सालय एवं सरकार द्वारा अधिकृत चिकित्सालयों में ही अनुमन्य है। वही छोटी मोटी साधारण बीमारियों हेतु पंजीकरण के उपरांत ₹3000 दिए जाने का प्रावधान है।

*पीएम आवास योजना की तर्ज पर आवास विहीन पंजीकृत श्रमिकों को मिलेगा आवास*
कैबिनेट मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य ने कहा कि वह श्रमिक जो झोपड़पट्टी व कच्चे मकानों में आवासित हैं उन सभी पंजीकृत श्रमिकों को प्रधानमंत्री आवास योजना की तर्ज पर श्रम विभाग द्वारा आवास दिए जाने की व्यवस्था सरकार ने की है।

*नवोदय की तर्ज पर प्रत्येक मंडल में बनेगा अटल आवासीय विद्यालय*
कबीना मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य ने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में नवोदय विद्यालय की तर्ज पर श्रमिकों के बच्चों को निशुल्क शिक्षा दीक्षा प्रदान करने हेतु प्रदेश के प्रत्येक मंडल में अटल आवासीय विद्यालय बनने जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश के 18 मंडलों में एक एक विद्यालय का निर्माण होने की योजना है। जिसके लिए प्रत्येक विद्यालय हेतु 12 से 15 एकड़ की जमीनों को चिन्हित कर उसके निर्माण हेतु धनराशि का भी आवंटन हो गया है। इन विद्यालयों का निर्माण लोक निर्माण विभाग द्वारा किया जाएगा।

*इंजीनियरिंग व मेडिकल में दाखिला लेने पर श्रमिकों के बच्चों की फीस अदा करेगा श्रम विभाग : स्वामी प्रसाद मौर्य*
पंजीकृत श्रमिकों के बच्चों द्वारा इंजीनियरिंग व मेडिकल की पढ़ाई हेतु दाखिला लेने पर उनकी पूरी फीस श्रम विभाग द्वारा अदा की जाएगी। इसलिए श्रमिक अपने बच्चों को जरूर पढ़ाएं सरकार आपके साथ खड़ी है। उक्त उदगार प्रदेश के कबीना मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य ने श्रमिक जागरूकता एवं हितलाभ वितरण समारोह में की। उन्होंने बताया कि श्रमिकों के बच्चों की शिक्षा हेतु प्राथमिक में डेढ़ सौ प्रतिमाह, जूनियर हाई स्कूल में ₹200 प्रति माह, इंटरमीडिएट में ₹300 प्रति माह, स्नातक में ₹500 प्रति माह, परास्नातक में ₹1000 प्रति माह, आईटीआई व पॉलिटेक्निक में ₹3000 प्रति माह, इंजीनियरिंग में ₹5000 प्रति माह, मेडिकल में 10 हजार प्रतिमाह व पीएचडी की शिक्षा हेतु 12 हजार प्रतिमाह दिए जाने का प्रावधान है। वही सरकार ने श्रमिकों के बेटे-बेटियों के हाईस्कूल-इंटरमीडिएट में साइकिल दिए जाने का प्रावधान किया।

*इनको मिली योजनाओं की सौगातें*
निर्माण कामगार मृत्यु दिव्यांगता सहायता एवं अक्षमता पेंशन योजना व निर्माण कामगार अंत्येष्टि सहायता योजना के तहत 12 लाभार्थियों को 27 लाख, श्रमिकों की पुत्रियों हेतु कन्या विवाह सहायता योजना में 111 लाभार्थियों को 61 लाख 05 हजार, मातृत्व शिशु एवं बालिका मदद योजना के तहत 470 लाभार्थियों को 85 लाख 64 हजार, चिकित्सा सुविधा योजना में 3072 लाभार्थियों को 39 लाख 16 हजार व संत रविदास शिक्षा सहायता योजना में 179 लाभार्थियों को साइकिल हितलाभ व छात्रवृत्ति के रूप में कुल 895000 के भुगतान का स्वीकृति प्रमाण पत्र दिया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *