Lakhimpur Kheri News:तीस साल में सबसे ज्यादा शव अप्रैल व मई 21 में आये : अशोक द्विवेदी महापात्र

इसके पूर्व 5 से 8 शव आते थे अन्तिम संस्कार को

एन.के.मिश्रा

लखीमपुर खीरी। कोविड लहर के दौरान लखीमपुर के प्रमुख राम घाट अंतिम संस्कार स्थल पर 14 अप्रैल से 21 तक रोज 10 से 15 व 21अप्रैल के बाद 25 से 30 शव अंतिम संस्कार के लिए आये। 29 को 30 शव आये। 3 मई को समाचार लिखने तक 20 शव आ चुके हैं। महापात्र अशोक द्विवेदी ने बताया कि 30 साल के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ है। 30 साल में 5 या ज्यादा से ज्यादा 8 शव आये। सारा रिकार्ड मौजूद है। लकड़ी ₹ 500 के स्थान पर ₹ 1000 कुंतल हो गयी है। अपने खुद के स्वास्थ्य को लेकर भी महापात्र व उनके सहायक छोटे भाई शिव प्रसाद द्विवेदी बहुत परेशान है। वैसे वह कोविड प्रोटोकॉल का पूरा पालन करते है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *