Gonda News:आयुक्त ने 50 करोड़ व 50 लाख रूपए से अधिक लागत की परियोजनाओं की समीक्षा कर शीघ्रातिशीघ्र पूर्ण कराने के दिए निर्देश

पूर्ण परियोजनाओं को सम्बन्धित विभागों को तत्काल हैण्डओवर करें कार्यदायी संस्थाएं-आयुक्त


राम नरायन जायसवाल

गोण्डा ।आयुक्त देवीपाटन मण्डल एस0वी0एस0 रंगाराव ने आयुक्त सभागार में मण्डल के 50 करोड़ से अधिक लागत एवं 50 लाख से अधिक लागत के सड़क निर्माण कार्य व अन्य निर्माण कार्य विशेषकर 70 प्रतिशत से अधिक भौतिक प्रगति वाली परियोजनाओं की गहन समीक्षा की। उन्होंने ऐसी कार्यदायी संस्थाएं जिनको शत-प्रतिशत धनराशि प्राप्त हो चुकी है और उनके द्वारा कार्य पूर्ण नहीं किया गया है, पर नाराजगी व्यक्त करते हुए कहा कि कार्यदायी संस्थाएं तेजी से निर्माण कार्य पूर्ण करके ऐसी परियोजनाओं का कार्य शीघ्रातिशीघ्र पूर्ण करें। उन्होंने कहा कि ऐसी कार्यदायी संस्थाएं जिनका नोडल अधिकारी नहीं है, मण्डल मुख्यालय स्थित उस विभाग के कार्यालय से सम्बन्धित अधिकारी ही नोडल अधिकारी का कार्य देखेगा तथा उनकी समीक्षा बैठकों में प्रतिभाग करेगा।

बैठक में में आयुक्त ने कहा कि अब तक पूर्ण हो चुके कार्यों व दिसमबर माह में  पूर्ण होने वाली निर्माण परियोजनाओं की सूची अपने-अपने विभाग के प्रमुख सचिव को भेज दें ताकि परियोजनाओं के लोकार्पण कार्य का कार्यक्रम निर्धारित हो सके। उन्होंने कार्यदायी संस्थाओं को 90 प्रतिशत से ऊपर पूर्ण हो चुके कार्यों को इसी माह प्रत्येक दशा में पूर्ण करने के निर्देश दिए हैं। बैठक में बताया गया कि 50 लाख से अधिक लागत के अन्य निर्माण कार्यों की प्रगति के अनुसार मण्डल में कुल 58 परियोजनाएं पूर्ण हो चुकी हैं जिसमें गोण्डा में 10, बलरामपुर में 06, बहराइच में 30 तथा श्रावस्ती में 12 परियोजनाएं हैं। रूपए 50 लाख से अधिक लागत के अन्य निर्माण कार्यों के अन्तर्गत मण्डल में 04 परियोजनाएं अनराम्भ हैं जिसमें गोण्डा में 02 तथा जनपद बहराइच व बलरामपुर में एक-एक परियोजनाएं सम्मिलित हैं। आयुक्त ने अनाराम्भ परियोजनाओं का कार्य तत्काल प्रारम्भ कराने के निर्देश दिए हैं।

आयुक्त ने मा0 मुख्यमंत्री जी द्वारा वीडियो कान्फ्रेन्सिंग के माध्यम से मण्डल से सम्बन्धित विकास परियोजनाओं के लिए दिए गए निर्देशों के क्रम में सम्बन्धित कार्यदायी संस्थाओं को निर्देशित किया कि मण्डल के प्रत्येक जनपद में जिन परियोजनाओं हेतुु धनराशि की आवश्यकता है, उसका परियोजनावार विवरण तैयार करते हुए धनराशि के लिए उनकी ओर से शासन को पत्र प्रेषित कराएं ताकि शासन से शीघ्र बजट प्राप्त हो सके और परियोजनाएं निर्धारित समय सीमा में पूर्ण हो सकें। आयुक्त ने कार्यदायी संस्थाओं द्वारा पूर्ण हो चुकी परियोजनाओं को सम्बन्धित विभाग को हैण्डओवर किए जाने के निर्देश देते हुए कहा कि सांसद निधि की परियोजनाओं की समीक्षा परियोजनावार उनके द्वारा स्वयं की जाएगी ताकि विकास कार्य तेजी से पूर्ण हो सकें।

 बैठक में बताया गया कि 50 लाख से अधिक लागत की सड़कों को छोड़कर अन्य निर्माण कार्यों से सम्बन्धित मण्डल में 416 परियोजनाओं में से 153 परियोजनाओं में 70 प्रतिशत से अधिक प्रगति है, 58 परियोजनाएं पूर्ण हो चुकी हैं तथा 09 परियोजनाएं सम्बन्धित विभागों को हैण्ड ओवर की जा चुकी है। आयुक्त ने शेष 49 परियोजनाओं को इसी माह सम्बन्धित विभागों को हैण्ड ओवर करने के निर्देश दिए हैं। जनपद श्रावस्ती में विकास भवन से सम्बन्धित निर्माण कार्य जो विगत कई वर्षों से शेष है और वर्तमान में दूसरी कार्यदायी संस्था राजकीय निर्माण निगम कार्य कर रही है तथा पूर्व की संस्था पर 25 लाख की वसूली का पत्र भेजा गया है, से सम्बन्धित पूरा रिकार्ड 05 दिसम्बर 2020 को जनपद श्रावस्ती में जांच के लिए उनके समक्ष प्रस्तुत करने के निर्देश दिए हैं।

बैठक में संयुक्त विकास आयुक्त वीरेन्द्र प्रसाद पाण्डेय, उपनिदेशक अर्थ एवं संख्या आरके मिश्रा सहित विभिन्न कार्यदायी संस्थाओं के अधीक्षण अभियन्ता, अधिशासी अभियन्ता तथा अन्य सम्बन्धित अधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *