Gonda Colonelganj News: कटरा शहबाजपुर घाट का उद्धार करने के लिए विधायक की पहल रंग लाई,50 लाख रुपये की लागत सरयू घाट का होगा सुन्दरीकरण

एसपी सिंह / ज्ञान प्रकाश मिश्रा

करनैलगंज(गोंडा)। कटरा शहबाजपुर घाट का उद्धार करने के लिए विधायक की पहल रंग लाई। 50लाख रुपये की लागत से कटरा शहबाजपुर सरयू घाट का सुन्दरीकरण होगा। इस योजना को शासन से मंजूरी मिल गई है। सीघ्र ही स्नान घाट पर निर्माण कार्य शुरू होगा।

करनैलगंज क्षेत्र के पौराणिक स्नान स्थल कटरा शहबाजपुर सरयू घाट का सुंदरीकरण और पर्यटन स्थल के रूप में विकसित करने के लिए क्षेत्रीय विधायक ने शासन को प्रस्ताव भेजा। जिसकी स्वीकृति मिल गई है। करीब 50 लाख रुपए की लागत से कटरा शहबाजपुर स्नान घाट एवं पौराणिक मंदिरों का कायाकल्प होगा। करनैलगंज सरयू घाट से करीब 2 किलोमीटर दूर कटरा शहबाजपुर घाट जिसका पौराणिक महत्व है। इस घाट पर पूर्व में दो बड़े मेलों का आयोजन होता रहा है और अब भी कार्तिक पूर्णिमा के मौके पर हजारों की संख्या में मेलार्थी मेले का लुफ्त उठाते हैं। मगर इस घाट पर श्रद्धालुओं के स्नान करने, शवों का अंतिम संस्कार करने में दिक्कत एवं मंदिरों की जर्जर स्थिति के नाते लोगों को असुविधा हो रही थी।

क्षेत्रीय विधायक कुंवर अजय प्रताप सिंह उर्फ लल्ला भैया ने बताया कि घाट के सुंदरीकरण एवं पर्यटन स्थल के रूप में विकसित करने के लिए शासन को प्रस्ताव भेजा गया था। जिस पर शासन द्वारा स्वीकृति मिल गई है। विधायक लल्ला भैया ने बताया कि करनैलगंज क्षेत्र के 2 स्नान घाटों के सुंदरीकरण व पर्यटन स्थल के रूप में विकसित करने का प्रस्ताव शासन को भेजा गया है। जिसमें कटरा सहबाजपुर घाट को पौराणिक स्थल व पर्यटन स्थल के रूप में विकसित करने एवं घाट पर मंदिरों के जीर्णोद्धार का कार्य शामिल किया गया है। शासन की ओर से कटरा शाहबाजपुर घाट सुन्दरीकरण एवं पर्यटन स्थल बनाने के लिए स्वीकृति मिल गई है। जिसे पर्यटन संवर्धन योजना के तहत विकसित किया जाएगा।

दूसरी तरफ क्षेत्रीय पर्यटन अधिकारी राजेंद्र प्रसाद यादव का कहना है कि करीब 50 लाख रुपए से घाट के सौंदर्यीकरण व पर्यटन सुविधाओं को मुहैया कराने के लिए घाट का विकास एवं निर्माण कराने के लिए प्रस्ताव शासन को गया था। जिसकी स्वीकृति मिलने के बाद कार्य प्रारंभ करवा दिया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *