Gonda News:स्वास्थ्य कर्मियों की लापरवाही से प्रसव के दौरान जच्चा-बच्चा की मौत,सीएचसी तरबगंज का मामला

राम नरायन जायसवाल

गोण्डा।जिले की सबसे पिछडे क्षेत्र में  सरकारी स्वास्थ्य सुविधाओं की लचर व्यवस्था की बानगी देखना हो तो सीएचसी तरबगंज आइए प्रसव के दौरान जच्चा-बच्चा की मौत हो गई ।

एचसी क्षेत्र के पिपरी रोहुआ के गोसाईं पुरवा श्रीमती 38 वर्ष पत्नी माता प्रसाद को गांव की आशा बहू सुनीता ने प्रसव के लिए रविवार रात में भर्ती कराया था। किंतु अस्पताल में मौजूद नर्स कांति ने प्रसव पीड़िता पर ध्यान नहीं दिया। उसकी हालत बिगड़ती रही किंतु ना तो समुचित उपचार किया । और ना ही डॉक्टरों ने कोई ध्यान दिया। डॉक्टरों को फोन करने के बाद भी डॉक्टरों ने मामले को गंभीरता नहीं लिया। जिसके प्रसव के तुरंत बाद प्रसव पीड़िता की हालत ज्यादा बिगड़ गई। तब नर्स कांति ने रेफर कर दिया। परिजनों के अनुसार नवजात बच्चे की मौत अस्पताल में ही हो गई ,वहीं इलाज के लिए ले जाते समय प्रसव पीड़िता श्रीमती की भी मौत हो गई। जबकि मामले में स्वास्थ अधीक्षक धीरज तिवारी ऐसे ही किसी प्रसव के बारे में साफ-साफ इंकार कर रहे हैं।वही पीडित परिजनों ने डाक्टर सहित  स्वास्थय कर्मियों पर कार्यवाई की मांग की है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *