Gonda News: यूपी में ऐसे ही पेट्रोल-डीजल की कीमत बढ़ती रही तो बैलगाड़ी से चलना पड़ेगा : अनिल त्रिपाठी

  • यूपी में ऐसे ही पेट्रोल-डीजल की कीमत बढ़ती रही तो बैलगाड़ी से चलना पड़ेगा : अनिल त्रिपाठी
  • महंगाई के खिलाफ उठाई आवाज, भाजपा सरकार को उखाड़ फेंकने को भरा दम

राम नरायन जायसवाल की रिपोर्ट

गोंडा – समाजवादी पार्टी से गौरा विधानसभा 301 से चुनाव की तैयारी कर रहे अनिल त्रिपाठी ने गौरा विधानसभा का भ्रमण करते हुए आम लोगों की जन समस्याओं को लेकर कहा उत्तर प्रदेश में ऐसे ही पेट्रोल-डीजल की कीमत बढ़ती रही तो बैलगाड़ी से चलना पड़ेगा। इस सरकार की गलत नीतियों के कारण देश के कई हिस्सों में पेट्रोल की कीमतें आज 100 रुपये प्रति लीटर का आंकड़ा पार कर चुकी हैं और डीजल की कीमतें 100 रुपये प्रति लीटर होने के कगार पर हैं।

सपा नेता ने कहा कि, ‘मोदी सरकार आम जनता को लूटना बंद करे। पिछले 5 महीनों में पेट्रोल-डीज़ल के दाम 44 बार बढ़ाए गए। 250 शहरों में पेट्रोल के दाम 100 रुपये प्रति लीटर से अधिक हैं।’ फिर भी सरकार और भाजपा से जुड़े नेता और कार्यकर्ता सरकार का लगातार बचाव ही कर रहे हैं, जबकि जनता महंगाई से त्राहि-त्राहि कर रही है। उत्तर प्रदेश में किसान परेशान है। महंगाई की वजह से सबसे ज्यादा किसान, मध्यम वर्गीय परिवार और नवयुवक परेशान है।

 

उधर, रसोई गैस का रेट भी आसमान छू रहा है। सीएनजी के दाम ने आम आदमी की कमर ही तोड़ रखी है। रसोई गैस के दाम में आखिरी बार बढ़ोत्तरी 6 अक्टूबर को हुई थी। तब 14.2 किलोग्राम वाले घरेलू रसोई गैस सिलेंडर की कीमत 15 रुपये बढ़ाई गई थी। जुलाई से लेकर अब तक इसके दाम 90 रुपये बढ़ चुके हैं। सब्सिडी पर सरकार साल में एक परिवार को 12 सिलेंडर ही देती है। ऐसे में अब आम आदमी भाजपा सरकार से तस्त्र है। वह 2022 के विधानसभा चुनाव में भाजपा सरकार को  उखाड़ कर फेंक देगी।यह बात रविवार को गोंडा में गौरा विधानसभा 301 से समाजवादी पार्टी से चुनाव की तैयारी कर  रहे वरिष्ठ पत्रकार अनिल त्रिपाठी ने क्षेत्र भ्रमण के दौरान किसान व मजदूरों के दर्द को समझते हुए कहा।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *