Lakhimpur- Kheri-News-काशीरामपुरवा में सम्पन्न हुआ तरुपूजन संस्कार, सहजन के पोषक गुणों की दी जानकारी गायत्री परिवार का वृक्षगंगा अभियान

एन.के.मिश्रा

लखीमपुर खीरी।गायत्री परिवार युवा प्रकोष्ठ लखीमपुर खीरी के द्वारा चलाए जा रहे वर्षाकालीन वृक्षगंगा अभियान में रविवार को फूलबेहड़ ब्लॉक के काशीरामपुरवा गाँव में तरुपूजन संस्कार संपन्न किया गया।

तरुपूजन (पौधों का पूजन) संस्कार गाँव स्थित गायत्री प्रज्ञापीठ परिसर में जिला समन्वयक राम खेलावन निषाद द्वारा सम्पन्न किया गया। वृक्षगंगा अभियान समन्वयक युवा प्रकोष्ठ के अनुराग मौर्य ने बताया पूजन संस्कार में ग्रामीणों ने अमरूद, सहजन, पारिजात (हरसिंगार), नींबू, गोल्डमोहर, मेहंदी आदि पौधों का पूजन कर उन्हें गोद लिया। ग्रामीणों को मुख्य रूप से न्यूट्रीशन डायनामाइट के नाम से जाने जाने वाले सहजन (मुनगा, या मोरिंगा) पेड़ के पोषक गुणों के बारे में बताया गया।

अनुराग मौर्य ने उपस्थित लोगों को सहजन के पौधरोपण हेतु प्रेरित करते हुए बताया कि सहजन की पत्तियों में संतरे से सात गुना अधिक विटामिन सी, केले से तीन गुना अधिक पोटेशियम, गाजर से चार गुना विटामिन ए, दही से तीन गुना अधिक प्रोटीन, दूध से चार गुना कैल्शियम होता है। इस प्रकार सहजन गर्भवती महिलाओं के लिये भी बेहद फायदेमंद है। तरुपूजन संस्कार के बाद तरुरोपण व तरुप्रसाद वितरण किया गया जिसमें तेतारपुर, लौकिहा, टाण्डा पयाग, उर्रा, रूदापुरवा, सिसैयापुरवा आदि ग्रामों से आये परिजनों को तरुप्रसाद (पौध) उपलब्ध कराया गया।

कायर्क्रम में युवा प्रकोष्ठ के शैलेश बरनवाल, अनिल दुबे, गायत्री प्रज्ञापीठ के कृष्णकान्त शुक्ला, श्रीराम वर्मा, शिव भगवान दुबे, खुशीराम यादव, कमलेश गिरि, रामकली शुक्ला, राधेश्याम यादव, शिल्पी शुक्ला आदि मौमूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *