Gonda News:उर्वरक की 42 दुकानों पर छापेमारी, 28 नमूने ग्रहण करते हुए 4 के लाइसेंस निलंबित

एसपी सिंह / ज्ञान प्रकाश मिश्रा
गोण्डा। उत्तर प्रदेश शासन के निर्देश के क्रम में जनपद के जिलाधिकारी मार्कंडेय शाही द्वारा उर्वरक निरीक्षकों की टीम का गठन करते हुए पूरे जिले में एक साथ उर्वरक के प्रतिष्ठानों पर छापेमारी कराई गई। छापेमारी के दौरान पूरे जिले से 28 नमूने ग्रहण करते हुए 42 दुकानों पर छापेमारी के साथ-साथ 4 दुकानदारों के उर्वरक प्राधिकार पत्र निलंबित करते हुए 5 को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया।
   जिलाधिकारी महोदय द्वारा  उप कृषि निदेशक डॉ मुकुल तिवारी को मनकापुर तहसील एवं भूमि संरक्षण अधिकारी सदानंद चौधरी को तरबगंज एवं जिला कृषि अधिकारी जेपी यादव को सदर एवम करनैलगंज में उर्वरक निरीक्षक नियुक्त करते हुए छापेमारी की कार्यवाही कराई गई ।
   जिसमें उप कृषि निदेशक द्वारा मनकापुर में 12 दुकानों पर छापेमारी करते हुए तीन नमूने लिए गए तथा पांडे खाद भंडार झिलाही एवं आईएफएफडीसी कृषक सेवा केंद्र झिलाही को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया।
     तरबगंज तहसील में भूमि संरक्षण अधिकारी सदानंद चैधरी द्वारा चार नमूने लेते  हुए 8 दुकानों पर छापेमारी की गई जिसमें 2 दुकानदारों के लाइसेंस निलंबित तथा एक को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया निलंबन में श्री बालाजी खाद भंडार एवं पवन खान बंदर भंडार तरबगंज।
    इसी क्रम में जिला कृषि अधिकारी द्वारा सदर एवं कर्नलगंज तहसील में 22 दुकानों पर छापेमारी किया गया जिसमें 21नमूना ग्रहित किया गया एवं दो दुकानदार साईं ट्रेडर्स परसपुर एवं शिव बाबू तिवारी पुरवा परसपुर को कारण बताओ नोटिस जारी करते हुए राजेंद्र ट्रेडर्स परसपुर एवं गायत्री ट्रेडर्स गौरीगंज के लाइसेंस को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया।
     इसके अतिरिक्त जिलाधिकारी महोदय द्वारा बताया गया कि यह कार्रवाई निरन्तर चलती रहेगी, कहीं भी यदि किसी दुकानदार के खिलाफ अधिक मूल्य पर बिक्री या नकलीउर्वरक बेचने की शिकायत आती है तो एफआईआर से लेकर जेल भेजने  तक की कार्रवाई की जाएगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *