Lakhimpur Kheri News:डीएम ने किया आशा संगिनियो के साथ वर्चुअल संवाद

घर-घर दस्तक देकर सिंप्टोमेटिक व्यक्ति को मुहैया कराएं मेडिकल किट : डीएम

एन.के.मिश्रा

लखीमपुर खीरी । डीएम शैलेंद्र कुमार सिंह ने जिले की सभी आशा संगिनियो के साथ वर्चुअल संवाद किया। डीएम ने कहा कि गत डेढ़ वर्षो में कोरोना महामारी के दौरान आशा संगिनियो ने बेहतर काम किया। जिनके बेहतर प्रबंधन से बड़ा फायदा हुआ। सभी आशा कार्यकत्री घर-घर दस्तक देकर सिंप्टोमेटिक व्यक्ति को चिन्हित कर मेडिकल किट मुहैया कराएं। वही रैपिड रिस्पांस टीमों (आरआरटी) के माध्यम से लक्षणात्मक व्यक्तियों की एंटीजन टेस्टिंग कराएं। आवश्यकतानुसार संदिग्ध व्यक्तियों की आरटी पीसीआर टेस्टिंग भी करें। आशा संगिनी व आशा कार्यकत्री स्वास्थ्य महकमे की एक अहम कड़ी हैं, जिनके कंधों पर बड़ी जिम्मेदारी है। समुदाय में कोविड के प्रसार रोकने में आपकी सक्रियता का अहम रोल है।डीएम ने आशा संगिनी सुषमा, लक्ष्मी व संगीता से बातचीत कर उनका फीडबैक लेकर मेडिकल किट की उपलब्धता जानी। सभी आशा संगिनी अपने अधीन कार्यरत आशा कार्यकत्रियों से समन्वय रखकर फील्ड में बेहतर परफॉर्मेंस दिखाएं। डीएम ने सीएमओ व बीएसए को निर्देश दिए कि मेडिकल किट की सप्लाई चैन मैकेनिज़्म को बेहतर बनाएं। डीएम ने कहा कि टीकाकरण शासन की शीर्ष प्राथमिकता है। सभी आशासंगिनी व आशा कार्यकत्री फील्ड में टीकाकरण के लाभों के बारे में ना केवल बताएं बल्कि उनका टीकाकरण करवाएं। उन्होंने कहा कि एक जून से जिले में 18 वर्ष से अधिक आयु वर्ग वाले व्यक्तियों का भी वैक्सीनेशन शुरू होगा। जिसमें आप की महती भूमिका है। आशा कार्यकत्री निगरानी समितियों के माध्यम से वैक्सीनेशन हेतु ना केवल पात्रों को चिन्हित करें बल्कि निकटवर्ती टीकाकरण केंद्रों में लाकर वैक्सीनेशन कराएं।सीडीओ अरविंद सिंह ने कहा कि निगरानी समितियां फील्ड में बेहतर कार्य कर रही। जिनकी सक्रियता की समीक्षा, पर्यवेक्षण व मॉनीटरिंग गठित समितियों द्वारा निरंतर की जा रही। कोविड काल में आशाओं ने बेहतर काम किया। उन्होंने कहा कि प्रत्येक आशा संगिनी के पास 25 व उनके सुपरविजन में कार्यरत प्रत्येक आशा कार्यकत्री के पास वितरण के बाद भी पांच मेडिकल किट रिजर्व में होनी चाहिए। ताकि आवश्यकतानुसार सर्वे में चिन्हित लक्षणात्मक व्यक्तियों को ससमय मेडिकल किट मुहैया हो सके। सीएमओ डॉ मनोज अग्रवाल ने आशा संगिनियो को बेहतर परफॉर्मेंस के लिए टिप्स दिए। उन्होंने कहा कि शासन के निर्देशानुसार वैक्सीनेशन अभियान को बड़े पैमाने पर चलाया जाना है, जिसकी तैयारी कर ले। एसीएमओ डॉ अश्विनी कुमार ने बताया कि जिले में मेडिकल किट की कोई कमी नहीं है। एमओआईसी की डिमांड पर पर्याप्त मात्रा में मेडिकल के भेजी जा रही। बैठक में सीएमओ डॉ मनोज अग्रवाल, बीएसए बुद्ध प्रिय सिंह, सभी एसीएमओ, जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ बलबीर सिंह, सभी आशा संगिनी वर्चुअली जुड़ी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *