Lakhimpur Kheri News: कपिलश फाउंडेशन का तृतीय वार्षिकोत्सव

एन.के.मिश्रा

लखीमपुर खीरी।युवाओं को समर्पित कपिलश फाउंडेशन का तृतीय वार्षिक उत्सव विद्या निकेतन इंटर कॉलेज गोला के ऑडिटोरियम में  कोविड नियमों का अनुपालन करते हुए मनाया गया। कार्यक्रम का आरंभ फाउंडेशन की संस्थापिका लक्ष्मी खरे द्वारा दीप प्रज्वलन करके किया गया प्रथम सत्र में अभिषेक निष्कर्ष के संयोजन में युवा कवि सम्मेलन में अमन शशांक, जय श्रीवास्तव, आसिफ खान, रजत कनौजिया, हितेश सुशांत ने काव्य पाठ किया जिसका सफल संचालन निलांबुज शुक्ला ने किया। सम्मान समारोह का द्वितीय सत्र केक काटकर और इलाहाबाद से आए छोटे गायक सुयश खरे की प्रस्तुति से हुआ। हाईस्कूलऔर इंटर में विशिष्ट उपलब्धि प्राप्त करने वाले बच्चों को मुख्यअतिथि राज्य सभा सांसद रवि प्रकाश वर्मा, कार्यक्रम अध्यक्ष मधु त्रिपाठी और संरक्षक डॉ वी बी धुरिया ने सम्मानित गया। सामाज सेवा के क्षेत्र में विशिष्ट उपलब्धियों के लिये लखीमपुर के हिन्दू राघव, मोहम्मदी के गोविंद गुप्ता और गोला के महेश पटवारी को सम्मानित किया गया। विद्यार्थी परिषद की गोला इकाई का सम्मान लवलेश दीक्षित और संजीव दीक्षित ने ग्रहण किया, आर्किटेक्ट विवेक वर्मा, विनायक श्रीवास्तव और आयुष मोहन को भी सम्मानित किया गया। कार्यक्रम में शुभ्रा खरे, देवेन्द्र श्रीवास्तव, गीतांजलि, रश्मि, अलीना, राखी, दर्शिका, अक्षत, साक्षी, लक्ष्मी, सुयश, काशिफ, अभिषेक, अरशद, शाद ने अपनी प्रस्तुतियां दी। रवि प्रकाश वर्मा ने अपने संबोधन में युवाओं को अपनी स्वीडन यात्रा के संस्मरण साझा करते हुए कहा कि आज युवाओं को फिर से अपनी पुरातन सभ्यता और संस्कृति का वाहक बनने की आवश्यकता है.                                                                                                         कपिलश एस एस एस प्राइवेट लिमिटेड द्वारा प्रायोजित इस आयोजन का संचालन अध्यक्ष शिप्रा खरे और पांच विश्व रिकॉर्ड बनाकर जिले का नाम विश्व पटल पर रोशन कर चुके यतीश चन्द्र शुक्ला ने किया। संरक्षिका लक्ष्मी खरे, विशिष्ट अतिथि नानक चन्द्र वर्मा, शैलेन्द् सक्सेना, अरविंद गुप्ता रामजी, श्याम वल्लभ शुक्ल ने सभी को स्मृतिचिन्ह प्रदान किए। इस अवसर पर श्याम किशोर अवस्थी, श्रीकांत तिवारी, अनिल जलोटा, मधु पटवारी, नारायण लाल, सत्येन्द्र द्विवेदी गंवार व अन्य गणमान्य अतिथियों और बच्चों का सानिध्य प्राप्त हुआ।                                                                                                                                                                                              कपिलश फाउंडेशन, स्मृतिशेष कपिल देव खरे, जो कि कृषक समाज इंटर कॉलेज में कला के प्रवक्ता थे, तथा वर्ष 1986 में अचानक इस संसार से चले गए, उनकी स्मृति में धर्मपत्नी लक्ष्मी खरे तथा पुत्री शिप्रा खरे ने 11 नवम्बर 2017 को समाज को समर्पित कपिलश फाउंडेशन की नींव डाली. तमाम सामजिक गतिविधियों के साथ साथ कपिलश एक कंपनी के रूप में आज गोला नगर में सैकड़ों युवाओं को प्रशिक्षित कर रोजगार देने का कार्य कर रही है हुए मनाया गया। कार्यक्रम का आरंभ फाउंडेशन की संस्थापिका लक्ष्मी खरे द्वारा दीप प्रज्वलन करके किया गया प्रथम सत्र में अभिषेक निष्कर्ष के संयोजन में युवा कवि सम्मेलन में अमन शशांक, जय श्रीवास्तव, आसिफ खान, रजत कनौजिया, हितेश सुशांत ने काव्य पाठ किया जिसका सफल संचालन निलांबुज शुक्ला ने किया। सम्मान समारोह का द्वितीय सत्र केक काटकर और इलाहाबाद से आए छोटे गायक सुयश खरे की प्रस्तुति से हुआ। हाईस्कूलऔर इंटर में विशिष्ट उपलब्धि प्राप्त करने वाले बच्चों को मुख्यअतिथि राज्य सभा सांसद रवि प्रकाश वर्मा, कार्यक्रम अध्यक्ष मधु त्रिपाठी और संरक्षक डॉ वी बी धुरिया ने सम्मानित गया। सामाज सेवा के क्षेत्र में विशिष्ट उपलब्धियों के लिये लखीमपुर के हिन्दू राघव, मोहम्मदी के गोविंद गुप्ता और गोला के महेश पटवारी को सम्मानित किया गया। विद्यार्थी परिषद की गोला इकाई का सम्मान लवलेश दीक्षित और संजीव दीक्षित ने ग्रहण किया, आर्किटेक्ट विवेक वर्मा, विनायक श्रीवास्तव और आयुष मोहन को भी सम्मानित किया गया। कार्यक्रम में शुभ्रा खरे, देवेन्द्र श्रीवास्तव, गीतांजलि, रश्मि, अलीना, राखी, दर्शिका, अक्षत, साक्षी, लक्ष्मी, सुयश, काशिफ, अभिषेक, अरशद, शाद ने अपनी प्रस्तुतियां दी। रवि प्रकाश वर्मा ने अपने संबोधन में युवाओं को अपनी स्वीडन यात्रा के संस्मरण साझा करते हुए कहा कि आज युवाओं को फिर से अपनी पुरातन सभ्यता और संस्कृति का वाहक बनने की आवश्यकता है.                                                                                                         कपिलश एस एस एस प्राइवेट लिमिटेड द्वारा प्रायोजित इस आयोजन का संचालन अध्यक्ष शिप्रा खरे और पांच विश्व रिकॉर्ड बनाकर जिले का नाम विश्व पटल पर रोशन कर चुके यतीश चन्द्र शुक्ला ने किया। संरक्षिका लक्ष्मी खरे, विशिष्ट अतिथि नानक चन्द्र वर्मा, शैलेन्द् सक्सेना, अरविंद गुप्ता रामजी, श्याम वल्लभ शुक्ल ने सभी को स्मृतिचिन्ह प्रदान किए। इस अवसर पर श्याम किशोर अवस्थी, श्रीकांत तिवारी, अनिल जलोटा, मधु पटवारी, नारायण लाल, सत्येन्द्र द्विवेदी गंवार व अन्य गणमान्य अतिथियों और बच्चों का सानिध्य प्राप्त हुआ।                                                                                                                                                                                              कपिलश फाउंडेशन, स्मृतिशेष कपिल देव खरे, जो कि कृषक समाज इंटर कॉलेज में कला के प्रवक्ता थे, तथा वर्ष 1986 में अचानक इस संसार से चले गए, उनकी स्मृति में धर्मपत्नी लक्ष्मी खरे तथा पुत्री शिप्रा खरे ने 11 नवम्बर 2017 को समाज को समर्पित कपिलश फाउंडेशन की नींव डाली. तमाम सामजिक गतिविधियों के साथ साथ कपिलश एक कंपनी के रूप में आज गोला नगर में सैकड़ों युवाओं को प्रशिक्षित कर रोजगार देने का कार्य कर रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *