Lakhimpur- Kheri-News: मुख्यमंत्री ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जनपद लखीमपुर- खीरी के विकास कार्यों की समीक्षा, दिये निर्देश

सामुदायिक शौचालय व ग्राम पंचायत भवन के निर्माण संबंधी कार्यों को प्राथमिकता से कराया जाए पूर्णआमजन की समस्याओं को प्राथमिकता के आधार पर किया जाए निस्तारित: मुख्यमंत्रीविकास कार्यों को समयबद्ध व गुणवत्तापूर्ण ढंग से किये जाए पूर्ण, विकास कार्यों में किसी भी प्रकार की लापरवाही होगी अक्षम्य: मुख्यमंत्री

एन.के .मिश्रा

लखीमपुर खीरी 25 सितम्बर 2020। शुक्रवार को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जनपद  के जनप्रतिनिधियों तथा जिलाधिकारी एवं मुख्य विकास अधिकारी के साथ लखनऊ मण्डल के जनपदों की विकास कार्यों की समीक्षा के दौरान जनपद लखीमपुर खीरी के विकास कार्यों की समीक्षा की।मुख्यमंत्री ने कहा कि जिला प्रशासन जनप्रतिनिधियों के साथ निरन्तर संवाद स्थापित कर उन्हंे परियोजनाओं के बारे में अवगत कराता रहे। परियोजनाओं को ससमय गुणवत्तापूर्ण ढंग से पूर्ण किया जाय। परियोजनाओं का भौतिक सत्यापन कराया जाय तथा ससमय उनका उपयोगिता प्रमाण पत्र भेजा जाय। कोविड-19 के अन्र्तगत कार्ययोजना बना ली जाय। कान्टेक्ट टैसिंग तथा सर्विलान्स को बढ़ाया जाय। संक्रमण की दर को 04 प्रतिशत से नीचे तथा मृत्यु दर को एक प्रतिशत की दर से नीचे लाया जाय। प्रधानमंत्री आवासों तथा शौचालयों को जीओ टैंिगंग कराते हुए उनका भौतिक सत्यापन कराया जाय। सामुदायिक शौचालयों तथा पंचायत भवनों के निर्माण हेतु जमीन का चिन्हांकन शीघ्र कराया जाय। स्र्माट सिटी तथा अमृत योजना के अन्र्तगत कराये जा रहे कार्यो की प्रगति बढ़ाई जाय। आत्मनिर्भर भारत पैकेज के अन्र्तगत कराये जा रहे कार्यो में और तेजी लाई जाय। जिला स्तर पर बैकर्स कमेटियों की बैठक कर कृषि आधारभूत संरचना तथा आत्मनिर्भर भारत के अन्र्तगत होने वाले कार्यो की विस्तृत समीक्षा की जाय।नये सीजन प्रारम्भ होने से पहले पुराने गन्ना मूल्य का भुगतान अवश्य पूर्ण करा दिया जाय। नये धान खरीद सीजन में यदि अतिरिक्त क्रय केन्द्रों की आवश्यकता है तो उन्हें शीघ्र स्थापित किया जाय। कोविड-19 के नियमों का पालन करते हुए सम्पूर्ण समाधान दिवस, थाना समाधान दिवस का आयोजन सुनिश्चित किया जाय। उर्जा विभाग द्वारा विघुत की आपूर्ति रोस्टर के अनुसार सुनिश्चित की जाय। यदिविघुत का गलत बिल आता है तो सम्बन्धित की जिम्मेदारी सुनिश्चित की जाय। जनप्रतिनिधियो ंसे बेहतर संवाद स्थापित किया जाय। लोन मेलों का आयोजन किया जाय।जनपद लखीमपुर-खीरी के जिलाधिकारी शैलेन्द्र कुमार सिंह ने कलेक्ट्रेट परिसर स्थित जिला सूचना एवं विज्ञान केन्द्र (एनआईसी) में वीडियो कान्फ्रेसिंग में सम्मिलित होकर बिन्दुवार जनपद में किये जा रहे अनवरत विकास कार्यों के बारे में मा0 मुख्यमंत्री जी को अवगत कराया।मा0 मंुख्यमंत्री जी द्वारा 10 करोड से अधिक की परियोजनाओं की समीक्षा के दौरान जिलाधिकारी शैलेन्द्र कुमार सिंह ने अवगत कराया कि जनपद लखीमपुर खीरी मे रू0 172.09 करोड की कुल 08 परियोजनाये निर्माणाघीन है, जिनमें दो सड़क निर्माण, एक नगर पंचायत मैलानी में आडिटोरियम, बैकेंट हाल आदि का निर्माण, कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय कानपुर के अन्र्तगत जनपद लखीमपुर खीरी में कृषि महाविद्यालय कैंपस की स्थापना का कार्य, दुधवा नेशनल पार्क के काॅरिडोर का निर्माण, दुधवा नेशनल पार्क में रेस्ट हाउस तथा मार्ग उच्चीकरण, राजकीय पशुधन एवं कृषि प्रक्षेत्र मझरा में स्थिति अनावासीय भवनों एवं पशुओं के शेड के मरम्मत एवं नवनिर्माण तथा बाहय स्थल तथा पलिया में ट्रांजिंट हाॅस्टल हेतु 108 नग भवनों का निर्माण सम्मिलित है। जिसमें मोहम्मदी बरबर जहानीखेड़ा सड़क मार्ग का कार्य 17 अगस्त 2021 तथा लखीमपुर शारदानगर ढखेरवा मार्ग का निर्माण 31 अक्टूबर 2020 तक पूर्ण कर लिया जायेगा। इसी प्रकार नगर पंचायत मैलानी के आडिटोरियम एवं बैकंेट हाॅल का निर्माण 30 सितम्बर 2020 तक पूर्ण कर लिया जायेगा। कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय कानपुर के अन्र्तगत जनपद लखीमपुर खीरी में कृषि महाविद्यालय कैंपस की स्थापना का कार्य प्रगति पर है तथा इसे 31 मार्च 2021 तक पूर्ण कर लिया जायेगा। दुधवा नेशनल पार्क के काॅरिडोर का विकास कार्य दिसम्बर 2020 तक तथा इसके रेस्ट हाउस तथा मार्ग उच्चीकरण का कार्य अक्टूबर 2020, राजकीय पशुधन एवं कृषि प्रक्षेत्र मझरा में स्थिति अनावासीय भवनों एवं पशुओं के शेड के मरम्मत एवं नवनिर्माण तथा बाहय स्थल का कार्य अक्टूबर 2020 तक, तथा पलिया में ट्रांजिंट हाॅस्टल हेतु 108 नग भवनों का निर्माण का कार्य मार्च 2020 तक पूर्ण कर लिया जायेगा।प्रधानमंत्री आवासीय योजना ग्रामीण की समीक्षा के दौरान जिलाधिकारी द्वारा अवगत कराया गया कि इस योजना के अन्तर्गत जनपद में वर्ष 2016-17 से वर्ष 2019-20 तक 65172 आवासों के निर्माण का लक्ष्य था जिसके सापेक्ष अब तक 64110 आवासों को निर्माण पूर्ण कराया जा चुका है। शेष आवासों का निर्माण कार्य प्रगति पर है और शीघ्र ही समस्त अवशेष आवास पूर्ण करा लिये जायेगें। इसके पश्चात जनपद में प्रधानमंत्री आवास योजना-नगरीय के सम्बन्ध में प्रगति वताते हुए अवगत कराया कि वर्ष 2019-20 हेतु 10810 आवासों का वार्षिक लक्ष्य प्राप्त हुआ था, जिसके सापेक्ष अब तक 11788 आवासों का निर्माण कार्य पूर्ण कर लिया गया है। सडक निर्माण कार्यो की समीक्षा के दौरान जिलाधिकारी द्वारा अवगत कराया कि नई सडकों के निर्माण हेतु 169 कार्य स्वीकृति हुए थे जिसके सापेक्ष 100 सडकों का निर्माण कार्य पूर्ण करा लिया गया है शेष सडकों पर कार्य तेजी के साथ कराया जा रहा है। जिसे मार्च 2021 तक पूर्ण कर लिया जायेगा। सड़कों के अनुरक्षण के अन्र्तगत 48 कार्यो के सापेक्ष 35 कार्य पूर्ण कर लिये गये है। शेष कार्य प्रगति पर है तथा नवम्बर 2020 तक पूर्ण कर लिये जायेगे।पेयजल योजना की समीक्षा के दौरान घर-घर जल योजना के सबंध में अवगत कराया कि 35 पाइप पेयजल योजनाओं पर कार्य कराया जाना है जिसमें 29 परियोजनाओं पर काम प्रारम्भ कर दिया गया है शेष योजनाओं पर भी कार्य शीघ्र ही प्रारम्भ हो जायेगा। स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण के अन्तर्गत जनपद में 325395 शौचालय एस0बी0एम0 के अन्र्तगत, 144374 शौचालय एल0ओ0बी0 क अन्र्तगत, 49756 शौचालय एनओएलबी के अन्र्तगत, इस प्रकार कुल 519525 शौचालयों को निर्माण किया जाना था। जिनका शत प्रतिशत निर्माण पूर्ण हो चुका है।स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण के अन्तर्गत सामुदायिक शोैचालय निर्माण के सबंध में समीक्षा के दौरान जिलाधिकारी ने अवगत कराया कि जनपद की कुल 1166 ग्राम पंचायतों में से 329 ग्राम पंचायतों में सामुदायिक शौचालयों का निर्माण पूर्ण कर लिये गये है तथा अवशेष में कार्य तेजी से निर्माणाधीन हैं।मुख्यमंत्री ने सांसद विकास निधि व विधायक विकास निधि के योजना के अन्तर्गत जनपद में कराये गये कार्यो की समीक्षा के दौरान निर्देशित किया इन कार्यों को प्राथमिकता के आधार पर पूर्ण कराया जाय। इस दौरान जिलाधिकारी ने अवगत कराया कि खीरी सांसद अजय मिश्र टेनी ने सांसद निधि से 34 कार्यो की स्वीकृति के सापेक्ष 10 कार्य पूर्ण कर लिये गये है। शेष कार्य प्रगति पर है। इसी प्रकार धौरहरा सांसद रेखा अरूण वर्मा ने सांसद निधि से 11 कार्यो के सापेक्ष 04 कार्य पूर्ण कर लिये गये है। शेष कार्य प्रगति पर है। विधायक विकास निधि योजना के अन्तर्गत विधान सभा क्षेत्र पलिया के लिए विधायक निधि से स्वीकृत 21 कार्यो के सापेक्ष 02 कार्य, विधानसभा क्षेत्र निघासन में स्वीकृत 21 कार्यो के सापेक्ष 08 कार्य, विधानसभा क्षेत्र गोला में 15 कार्यो की स्वीकृति के सापेक्ष 08 कार्य, विधानसभा क्षेत्र श्रीनगर में स्वीकृत 17 कार्यो के सापेक्ष 06 कार्य, विधानसभा क्षेत्र धौरहरा में स्वीकृत 16 कार्यो के सापेक्ष 16 कार्य, विधानसभा क्षेत्र लखीमपुर में स्वीकृत 27 कार्यो के सापेक्ष 25 कार्य, विधानसभा क्षेत्र कस्ता में स्वीकृत 25 कार्यो के सापेक्ष 09 कार्य, विधानसभा क्षेत्र मोहम्मदी में स्वीकृत 33 कार्यो के सापेक्ष 01 कार्य पूर्ण करा लिये गये हैं अवशेष सभी कार्य शीध्र पूर्ण करा लिये जायेगें।गन्ना मूल्य भुगतान की समीक्षा के दौरान जिलाधिकारी ने बताया कि जनपद लखीमपुर खीरी में कुल 09 चीनी मिलें है जिनके द्वारा कुल 415677.79 लाख रूपया का गन्ना मूल्य भुगतान दिया जाना था, जिसमें से 264612.90 लाख धनराशि गन्ना मूल्य भुगतान किया जा चुका है। जो कि 63.66 प्रतिशत है। अवशेष गन्ना मूल्य भुगतान शीघ्र कराने का हर सम्भव प्रयास किया जा रहा है। जनपद में उर्वरकों की उपलब्धता की समीक्षा के दौरान जिलाधिकारी ने बताया कि जनपद में किसी भी प्रकार के उर्वरक की कोई कमी नही है। उर्वरकों की जमाखोरी, कालाबाजारी एवं ओवररेंटिग के विरूद्ध सद्यन छापेमारी अभियान चलाया जा रहा है। गौवंश आश्रय स्थलों के सम्बन्ध में जानकारी देते हुए डीएम ने बताया कि जिले में अस्थाई गौवंश आश्रय स्थल (ग्रामीण) की संख्या 28 जिसमें 7578 गौवंश संरक्षित है इसी प्रकार दो वृहद गौ संरक्षण केन्द्रों में 889 गौवंश संरक्षित है। जिला पंचायत द्वारा 03 ग्रामीण अस्थाई गौवंश आश्रय स्थलों में 508 तथा नगरीय निकाय द्वारा संचालित 04 गौवंश आश्रय स्थलों में 588 गौवंश संरक्षित किये गये हे।

————कोविड से निपटने के लिए जिला प्रशासन पूरी तरह से प्रतिबद्ध
समीक्षा के दौरान कोविड-19 के सम्बन्ध में जिलाधिकारी ने अवगत कराया कि अबतक जनपद में अबतक 94738 टेस्ट किये जा चुके है जिसमें 4544 व्यक्ति कोविड सवंमित मिले इसमें 3657 व्यक्ति उपचार उपरांत स्वस्थ हो चुके है तथा वर्तमान में जनपद में 839 एक्टिव केसेज है। जनपद में कुल 220 कंटेनमेंट जोन है। जिसके लिए 400 टीमें गठित की गई है तथा 1348 निगरानी समितियों सक्रियता से फीड में काम कर रही है। जिले में लेवल वन एवं लेवल-02 चिकित्सालय में कुल 280 बेड है। जिसमें 20 आईसीयू बेड है। वर्तमान में कुल 55 संक्रमित उपचार हेतु चिकित्सालय में एडमिट है।

———–खीरी में थारू जनजाति के समग्र विकास हेतु थारू शिल्प ग्राम की स्थापनाथारू क्ष़्ोत्र के 06 स्वास्थ्य उपकेन्द्रों पर शुरू हुई प्रसव की अनवरत सुविधा
लखीमपुर खीरी 25 सितम्बर 2020। समीक्षा के दौरान जिलाधिकारी ने बताया कि थारू जनजाति क्षेत्र के समग्र विकास हेतु 174.79 लाख की लागत से थारू शिल्प ग्राम की स्थापना की गई। जिसमें 01 थारू हैरिटेज वर्क रोड, 10 थारू शिल्प विक्रय/प्रदर्शन केन्द्र, 01 थारू शिल्प वस्त्र एवं प्रशिक्षण केन्द्र, 01 थारू रेस्टोरेंट, 04 थारू हट, 01 थारू नृत्य संगीत केन्द्र, 10 सोलर स्ट्रीट लाइट एवं 01 थारू म्यूजियम का भी सम्मिलित है। डीएम ने बताया 02 थारू क्षेत्र के 06 उपकेन्द्रों ( धुसकिया, चंदनचैकी, निझौटा, छेदिया पश्चिम, वनकटी एवं गौरीफन्टा ) में 24ग7 प्रसव सुविधा उपलब्ध कराई गई है।

————मनरेगा के अन्र्तगत 63 लाख से ज्यादा मानव दिवस का किया गया सृजनलखीमपुर खीरी 25 सितम्बर 2020। समीक्षा के दौरान जिलाधिकारी ने बताया कि मनरेगा के अन्र्तगत अबतक 62.28 लाख मानव दिवस के सृजन के लक्ष्य के सापेक्ष अबतक 63.45 लाख मानव दिवसों का सृजन किया जा चुका है जो वार्षिक लक्ष्य का 101.70 प्रतिशत है। कर करेत्तर में 30488.19 लाख की उपलब्धि अर्जित की गई। कोरोना काल के दौरान अधिक से अधिक प्रवासी मजदूरों को मनरेगा योजना के तहत रोजगार उपलब्ध कराया गया।—————वीडियो काफेन्सिंग से जनप्रतिनिधियों ने मुख्यमंत्री के समक्ष उठाई क्षेत्र की समस्याएंमुख्यमंत्री से वार्ता के दौरान विधायक निघासन शंशाक वर्मा ने निघासन में बाढ़ से सड़कों को हुए नुकसान को देखते हुए सड़कों की मरम्मत, क्षेत्र में टूरिज्म सेंटर, मुसिंफ कोर्ट, पोस्टमार्टम हाउस की स्थापना, उपमण्डी का कार्य, स्टेडियम की स्थापना, ग्राम माझा में पुल का निर्माण, ढखेरवा-कौढियाला रोड बनाये जाने की मांग की।विधायक श्रीनगर ने मांग की कि उनकी विधानसभा तराई क्षेत्र में होने के कारण गन्ने की फसल बाढ़ से प्रभावित होती है अतः प्रभावित प्रत्येक गन्ना किसान की एक एक पर्ची का जल्द भुगतान करा दिया जाय। उन्होने जनपद मे ंप्रस्तावित मेडिकल कालेज की शीघ्र स्थापना की मांग की। विधायक सदर योगेश वर्मा ने घाघरा शारदा सहायक परियोजना के कारण छोटी छोटी नदियों का मुहाना बंद हो गया उनकी तत्काल सफाई कराने की मांग की, मुख्यमंत्री जी ने निर्देश दिये कि इसकी सफाई स्थानीय स्तर पर मनरेगा से कराई जा सकती है। नौवांपुर तथा रेहरिया खुर्द गांव नदियों के मध्य बसे है जिसके लिए बाढ़ में आवागमन की सुविधा नही है। जहां पुल के निर्माण की मांग की। साथ ही शहर को जोड़ने वाली सड़कों के चैडीकरण की मांग की।विधायक सौरभ सिंह सोनू ने क्षेत्र में ट्रासफार्मर की क्षमतावर्धन की मांग की। सीएचसी मितौली में जलभराव को दूर करने, खंजरनगर को दहिया गांव मे पुल तथा गुलौला में 32 केवी के विघुत सब स्टेशन की मांग की।विधायक लोकेन्द्र प्रताप सिंह ने अपने क्षेत्र में स्वास्थ्य सुविधाएं बढ़ाने की मांग की। डेढ वर्ष पूर्व किसानों द्वारा लिये गये ट्यूबवेल कनेक्शन के ट्रासफार्मर के अभाव के कारण संचालन में बाधा आने की बात कही, उचैलिया में 33/11 केवीए का पावर हाउस बनवाने की मांग की।सांसद अजय मिश्र टेनी ने 200 शैया मातृ एवं शिशु चिकित्सालय को लखीमपुर सीतापुर मार्ग से सीधे जोड़ने वाले सम्पर्क मार्ग के शीघ्र स्वीकृति, ट्रामा संेटर तथा 200 बेड मातृ एवं शिशु चिकित्सालय का मुख्यमंत्री जी से लोकार्पण करने का समय मांगा। तीन नवनिर्मित सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों में उपकरणों एवं चिकित्सकों की पर्याप्त उपलब्धता की मांग की। साथ ही 2016 में जनपद में प्रत्येक सीएचसी में रखे गये आयुष चिकित्सकों की उपयोगिता को दृष्टिगत रखते हुए उनकी सेवाएं आगे भी जारी रखने की मांग उठाई। हर घर नल योजना के अन्र्तगत संचालित योजना में पुराने बिजली बिलों के भुगतान की समस्या उठाते हुए उनका उच्च स्तरीय समाधान करने की मांग की। इसी के साथ वीडियो काफेन्सिंग से जुड़ी रेखा अरूण वर्मा ने स्वास्थ्य सेवाओं को बेहतर बनाने के साथ मेडिकल कालेज के निर्माण की मांग की।

—————इनकी रही मौजूदगी:वीडियो काॅन्फे्रसिंग के दौरान खीरी सांसद अजय मिश्र टेनी, विधायक सदर योगेश वर्मा, विधायक श्रीनगर मंजू त्यागी, विधायक कस्ता सौरभ सिंह सोनू, विधायक मोहम्मदी लोकेन्द्र प्रताप सिंह, विधायक निघासन शंशाक वर्मा, जिलाधिकारी शैलेन्द्र कुमार सिंह, मुख्य विकास अधिकारी अरविन्द सिंह, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डाॅ0 मनोज अग्रवाल सहित अन्य सम्बन्धित जिला स्तरीय अधिकारी गण मौजूद रहे।————

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *