Gonda News:जिले का एक ऐसा विद्यालय न शिक्षक और न छात्र, छह महीने से स्कूल में लटक रहा ताला

राम नरायन जायसवाल
गोण्डा। शिक्षा क्षेत्र इटियाथोक में एक ऐसा स्कूल है, जो पिछले छह महीने से बंद पड़ा है।यहां स्कूल की इमारत तो है, लेकिन शिक्षक और छात्र दोनों ही गायब हैं। विभाग के जिम्मेदार अधिकारियों ने भी विद्यालय खुलवाने का प्रयास नहीं किया, जिससे सैकडों बच्चों का भविष्य अधर में फंस गया है। जिम्मेदार अफसरों को यह भी नहीं पता, कि क्षेत्र में कुल कितने विद्यालय शिक्षक विहीन हैं।
शिक्षा विभाग की अनदेखी के कारण पूर्व माध्यमिक विद्यालय सतघरवा तालाबंदी का शिकार हो गया है।जिले के विकास खंड इटियाथोक के सतघरवा गांव में पूर्व माध्यमिक विद्यालय होने से बालक व बालिकाओं को सहूलियत थी, लेकिन शिक्षा विभाग के अनदेखी के कारण यहां एक भी शिक्षक नहीं हैं और यह छह महीने से बंद पड़ा हुआ है।वैसे तो यहां का अतिरिक्त प्रभार बृजराज यादव को मिला था, लेकिन उनका कहना है कि वह प्राथमिक विद्यालय विजयगढ़वा में अपनी सेवा दे रहे हैं।गांव निवासी राम तीरथ राजभर ने बताया,कि यहां करीब छह माह पूर्व दो अध्यापकों की तैनाती थी, दोनों का तबादला होने के बाद से स्कूल में किसी अध्यापक की तैनाती नहीं हुई है। हालात यह है, कि अब छात्रों की जगह यहां छुट्टा जानवर पढ़ रहे हैं और यहीं पर गोबर कर रहे हैं। छात्र थे लेकिन शिक्षा विभाग की लापरवाही के चलते अपने गांव का विद्यालय छोड अलग विद्यालयमे जाने को मजबूर हैं।
इस संदर्भ में खंड शिक्षा अधिकारी इटियाथोक  विभा सचान से जब बात की गई, तो उन्होंने बताया कि मामला संज्ञान में है, जल्द ही विद्यालय में पठन-पाठन का कार्य शुरू कराया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *