Gonda News:शोहदे से परेशान युवती ने लगाई फांंसी,भारी पुलिस बल के मौजुदगी मेंं कराया गया दाहसंस्कार

छेड़खानी में पुलिस द्वारा कार्रवाई ना होने पर  युवती ने लगाई फांसी,

परिजनो के भारी विरोध के चलते  प्रशासनिक व्यवस्था में कराया गया दाह संस्कार

राम नरायन जायसवाल?मणिकांंत तिवारी

गोण्डा। एक तरफ महिलाओं की सशक्तिकरण हेतु योगी सरकार कई योजनाएं संचालित कर महिला संबंधित अपराध पर लगाम लगाने का प्रयास कर रही है वहीं दूसरी तरफ छेड़खानी मामले में सुनवाई न होने पर  युवती ने फांसी लगाकर अपनी जीवनलीला समाप्त कर पुलिसिया कार्यशैली पर सवालिया निशान छोड़ गई। 

मामला थाना कौड़िया क्षेत्र के ग्रामसभा पूरे बदल का है जहाँ 18 वर्षीय  गरीब युवती के साथ छेड़खानी का मामला प्रकाश में आया था। गांव के ही दो लोगों ने बीते 13 नवंबर को युवती के साथ छेड़खानी की घटना को अंजाम दिया था। जिस संबंध में युवती की माँ युवती को लेकर थाना कौड़िया गई। मृतिका के परिजनों ने बताया कि वहां मौजूद पुलिसकर्मियों से बताया गया कि लड़की के साथ छेड़खानी की घटना घटित हुई है। परिजनों ने बताया कि शिकायत दर्ज कराकर  हम लोग घर वापस आ गए। पुलिस पर आरोप लगाते हुए कहा कि दोनों आरोपियों को पुलिस पकड़कर थाने लाई और कुछ आर्थिक लाभ लेकर दोनों आरोपियों को छोड़ दिया। उसके अगले दिन यानी 14 नवंबर को युवती अपने खेत में जा रही थी। रास्ते मे दोनों आरोपियों ने युवती का रास्ता रोक लिया और गंदी गंदी बात करने लगे।

जिससे आहत होकर युवती अपने घर आई और फांसी के फंदे पर झूलकर अपनी जीवनलीला समाप्त कर ली। सूचना मिलते ही थाना कौड़िया पुलिस के हाथ पांव फूल गए। आनन फानन कौड़िया पुलिस ने युवती की लाश अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम हेतु जिला मुख्यालय भेज दिया। और सबंधित के विरुद्ध धारा 306 के तहत मुकदमा पंजीकृत कर लिया। युवती का शव पहुंचते ही गांव में कोहराम मच गया। रोते बिलखते परिजनों ने पुलिस पर आरोप लगाते हुए कहा कि यदि पुलिस आरोपियों पर प्रभावी कार्यवाही करती तो शायद युवती जीवित होती। परिजनों ने कहा कि जब तक कप्तान साहब नही आएंगे तब तक शव का दाह संस्कार नही किया जाएगा। 

रात को ही अपर पुलिस अधीक्षक मृतका के घर पहुच कर आरोपियों के विरुद्ध सख्त से सख्त कार्यवाही का आश्वासन दिया। सोमवार  लगभग दो बजे दिन में उपजिलाधिकारी ज्ञान चंद्र गुप्ता, क्षेत्राधिकारी मुन्ना उपाध्याय व प्रभारी निरीक्षक मनोज सिंह की मौजूदगी में दाह संस्कार किया गया। 

क्षेत्राधिकारी मुन्ना उपाध्याय ने बताया कि छेड़खानी को लेकर दो पक्षों में विवाद हुआ था जिस संबंध में थाना कौड़िया द्वारा आरोपियों पर 151 के तहत कार्यवाही की गई थी। तथा युवती को आत्महत्या के लिए दुष्प्रेरित करने वाले दो आरोपी अभ्युक्तों के खिलाफ मुकदमा दर्ज व उनकी गिरफ्तारी कर विधिक कार्यवाही की जा रही है।

पुलिस अधीक्षक शैलेश कुमार पाण्डेय ने बताया है कि मामला संज्ञान में आने पर घटना के दो दिन पहले विधिक कार्यवाही की गयी थी।  फांसी लगाकर कर आत्म हत्या के मामले में  दो लोगों को हिरासत में लेकर उचित धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *