Lakhimpur Kheri News:जंगल की जमीन पर हो रहा अवैध खनन, वन विभाग मौन

एन.के.मिश्रा

गोला गोकर्णनाथ (लखीमपुर-खीरी)।गोला वन रेंज की रजा नगर बीट में जंगल की भूमि पर अवैध रूप से खनन माफिया मिट्टी का खनन कर रहे हैं तो वहीं वन महकमा खामोस रहकर मूकदर्शक बना हुआ है।
बताते चलें कि जनपद खीरी के दक्षिण खीरी वन प्रभाग के अंतर्गत गोला वन रेंज की रजा नगर बीट में खनन माफियाओं और वन महकमे की मिलीभगत से वन भूमि पर बड़े पैमाने पर खनन किया जा रहा है और वन महकमा खामोश रहकर चुप्पी साधे हुए है। जिससे यह प्रतीत होता है कि वन महकमे की पूर्णतयः मिलीभगत है। जबकि जानकारी के अनुसार वनों के निकट 100 मीटर तक खनन या अन्य कार्य वर्जित है। सवाल यह है कि फिर यह कार्य 100 मीटर के अंदर कैसे हो गया। वन महकमा क्या करता रहा यह भी एक सोचनीय प्रश्न है।
महासचिव पर्यावरण एवं जन कल्याण समिति अशोक कुमार मुन्ना ने शासन से इसकी शिकायत कर जांच करवाने का आग्रह किया है।  मुन्ना ने बताया कि गोला के पूर्वी व पश्चिमी बीट जंगल से हजारों कुंतल लकडी हर रोज लकड़हारे साइकिल पर लाद के ला रहे हैं, जो शाम के वक्त किसी भी जंगल के पास देखा जा सकता है। वहीं गोला के सैकड़ों होटलों और ढावों पर इन लकड़हारों के द्वारा लकडी पहुंचाने का कार्य किया जा रहा है। इतना ही नहीं खुटार रोड, मोहम्मदी रोड, मिल रोड, राजेंद्र नगर में रसूखदारों के द्वारा लकडी की अवैध ठेकियां खोली गई हैं जिन पर पौराणिक व ऐतिहासिक गोला जंगल की बेशकीमती लकड़ी स्थानीय वन विभाग के कर्मचारियों की मिलीभगत से काटकर लकड़कट्टे लाते हैं। कुल मिलाकर कहना गलत नहीं होगा कि मनमाने तरीके से वन विभाग के कर्मचारी पैसा वसूलने का कार्य कर रहे हैं।
 लोगों का यह मानना है कि यदि उच्चाधिकारियों के द्वारा वन विभाग के कर्मचारियों पर अतिशीघ्र कार्यवाही नही होती है। तो वह दिन ज्यादा दूर नही है जब गोला का पौराणिक और ऐतिहासिक जंगल वीरान होता नजर आएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *