Lakhimpur Kheri News:छप्पर में आग लगाने का आरोप गृहस्थी जल कर राख

एन.के.मिश्रा

मोहम्मदी, लखीमपुर खीरी। क्षेत्र के ग्राम खिरिया घासी में मकान में पड़े छप्पर में आग लगा दी। जिससे छपपर में सो रहे गृहस्वामी के वृद्ध पिता व उसके बच्चे जलने से बच गए। लेकिन गृहस्थी का सामान, रजाई कम्बल गददे, गेहूं-चावल आदि सब कुछ जलकर राखा हो गया। गृहस्वामी का आरोप है कि किसी ने रंजिशन आग लगाई ताकि उसके पिता व बच्चो को जलाकर मारा जा सके। अग्नि पीडित ने कोतवाली में मुकदमा दर्ज किये जाने को तथा तहसीलदार को शासन की योजना के अन्तर्गत आर्थिक सहायता दिये जाने की मांग करते हुए प्रार्थना पत्र दिया गया है। पुलिस ने जांच करा ले कह कर पीड़ित को टरका दिया वही तहसीलदार ने लेखपाल को गांव भेजकर जांच करा कर शीघ्र अहेतुक सहायता दिये जाने का आश्वासन दिया है।
क्षेत्र के ग्राम खिरिया घासी निवासी हरिपाल गौतम पुत्र बनवारी लाल गौतम ने बताया कि बीती शुक्रवार की रात को वो पशुओ की सुरक्षा के कारण उनके पास लेटा था। वृद्ध पिता कमरे के आगे पड़े छपपर जो आगे से टटिया लगाकर बन्द है में रोज की भाति पिता बनवारी लाल तथा बच्चे सो रहे थे। पत्नी कमरे में सो रही थी। इसी छपपर में खाना पकाने, अनाज, आलू, रजाई-गददे, चारपाईया तथा तमाम गृहस्थी का सामान रखा था। आज प्रातः तीन बजे अचानक छपपर में किसी अज्ञात व्यक्ति ने आग लगा दी। आग की लपटो की तपिश से पिता की आंख खुली तो वो पूरे छपपर को जलते देख चीखने लगे। तब तक हरिपाल व उसकी पत्नी भी जाग गए। किसी प्रकार बच्चो व बनवारी को सुरक्षित बाहर ले जाया गया लेकिन आग इतना विकराल रूप धारण कर चुकी थी कि उसमें रखा एक भी सामान नहीं निकाला जा सका और देखते ही देखते सब कुछ जलकर राख हो गया। ओढ़ने बिछाने को बिस्तर, चारपाईया, गेहूं, चावल आदि सबकुछ जलकर राख हो गया। हरिपाल मुकदमा दर्ज करने को कोतवाली में और सरकार अहेतुक सहायता के लिये तहसीलदार को प्रार्थना पत्र दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *